January 29, 2023

Knowledge News : अलग-अलग रंग के क्यों होते हैं Indian Passport, जानिए इसके पीछे की वजह

wp-header-logo-203.png

जब भी किसी इंसान को भारत से बाहर यात्रा करनी होती है तो एक चीज जो सबसे ज्यादा जरुरी होती है और वो है पासपोर्ट। देश से बाहर बिना पासपोर्ट के यात्रा कर पाना बहुत मुश्किल है। उसके बाद बारी आती है वीजा की। ये तो आप सब जानते ही होंगे कि हर देश का पासपोर्ट अलग होता है और हर पासपोर्ट की अपनी एक अहमियत होती है। पासपोर्ट की वजह से नागरिकों को आसानी से पहचाना जा सकता है कि वो किस देश का नागरिक है। आपको बता दें कि भारत में ही एक नहीं बल्कि कई अलग-अलग कलर के पासपोर्ट हैं। उन हर पासपोर्ट का एक अलग और खास मतलब होता है। आज हम आपको अपनी इसी खबर में भारतीय पासपोर्ट (indian passport) के बारे में कुछ रोचक बातें बताने वाले हैं। तो चलिए जानते हैं उन बातों के बारे में।
कितने रंग के हैं भारतीय पासपोर्ट
सबसे पहले तो आपको बता दें कि भारतीय पासपोर्ट तीन रंग (different colors of indian passport) के होते हैं। पहला नीला, दूसरा सफेद और तीसरा मैरून कलर का पासपोर्ट। अब जानते हैं इन तीनों रंगों के पासपोर्ट का मतलब।
नीला रंग का पासपोर्ट
नीले रंग के पासपोर्ट को हमारे देश के आम लोगों के लिए बनाया गया है। इस नीले रंग के पासपोर्ट में व्यक्ति का नाम, उसकी जन्म तारीख और स्थानीय पते की जानकारी दी होती है। इसके साथ ही इसमें फोटो, हस्ताक्षर, पहचान के लिए शरीर पर कोई निशान के बारे में भी जानकारी भी दी गई होती है। जब पासपोर्ट पर किसी देश का वीजा लगता है उसके बाद ही वहां की यात्रा की जा सकती है।
सफेद रंग का पासपोर्ट
सफेद कलर के पासपोर्ट को किसी सरकारी काम की वजह से विदेश जाने वाले आधिकारिक व्यक्ति को दिया जाता है। एयरपोर्ट पर कस्टम की चेकिंग के दौरान इस सफेद रंग के पासपोर्ट वाले अधिकारी या सरकारी व्यक्ति को अलग तरह से ट्रीट किया जाता हैं। बता दें कि सफेद रंग के पासपोर्ट वाले व्यक्ति को कुछ खास तरह की सुविधाएं भी मिलती हैं।
मरून रंग का पासपोर्ट
मरून रंग का पासपोर्ट भारत के डिप्लोमैट्स और सीनियर अधिकारियों को जारी किया जाता है। इनमें आईएएस अधिकारी और सीनियर आईपीएस रैंक वाले अधिकारी शामिल होते हैं। इस रंग का पासपोर्ट जिन लोगों के पास होता है उन्हें विदेश जाने के लिए वीजा की जरूरत भी नहीं पड़ती। साथ ही इन लोगों का इमिग्रेशन प्रोसेस भी अन्य लोगों के मुकाबले काफी आसानी से और जल्दी हो जाता है। विदेश जाने पर ऐसे लोगों के खिलाफ किसी भी तरह का कोई केस आसानी से दर्ज नहीं कराया जा सकता।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author