November 28, 2022

Dengue के लक्षण पहचान जल्द शुरू करें उपचार, यहां पढ़ें असरदार Home Remedies

wp-header-logo-197.png

Home Remedies For Dengue: पिछले कुछ दिनों से डेंगू (Dengue) पेशेंट्स के आकड़े बढ़ रहे हैं। यह ऐसा खतरनाक रोग है, जिसमें लापरवाही बरतने पर पेशेंट की जान भी जा सकती है। यहां हम आपको बता रहे हैं दिल्ली के सफदरजंग हॉस्पिटल के सीनियर फिजिशियन डॉ. एस. के. शर्मा द्वारा बताए, डेंगू होने के कारण, इसके लक्षण, बचाव के उपाय और घरेलू उपचार के बारे में। मलेरिया (Malaria), डेंगू (Dengue), चिकनगुनिया (Chikungunya) जैसी कई ऐसी खतरनाक बीमारियां हैं, जो अलग-अलग तरह के मच्छर के काटने से होती हैं। खासतौर पर इन दिनों दिल्ली समेत देश के कई हिस्सों में डेंगू के कई मामले सामने आ रहे हैं। आइए जानते हैं, डेंगू रोग (Dengue Ka Gharelu Upchar) कैसे फैलता है और इसके लक्षण-उपचार (Dengue Symptoms And Treatment) क्या हैं?
क्या है डेंगू ? (What Is Dengue)

डेंगू एक वायरल रोग है, जो मादा एडीज एजिप्टी नामक मच्छर के काटने से होता है। यह मच्छर गंदे पानी के जमाव में पनपता है। दरअसल, मानसून में हुई बारिश से अकसर जगह-जगह पर जलभराव हो जाता है, जहां मच्छर प्रजनन करके अपनी संख्या तेजी से बढ़ाते हैं। यह मच्छर दिन के समय ही काटता है और कुछ ही दिनों में रोगी की स्थिति बिगड़ने लगती है।
रोग के लक्षण (Dengue Symptoms)
डेंगू के लक्षण मच्छर के काटने के 3-4 दिन बाद दिखने लगते हैं। इसमें सिरदर्द, मांसपेशियों में दर्द, जी मिचलाना, हड्डियों में दर्द, जोड़ों में दर्द, आंखों के पीछे दर्द, ग्रंथियों में सूजन और स्किन पर लाल चकत्ते जैसे लक्षण शामिल हैं। इस के साथ ही ठंड लगने के साथ तेज बुखार आता है और कंडीशन बिगड़ने पर शरीर में खून की कमी हो जाती है। हालांकि तेज बुखार होने पर दवा लेकर इसे कंट्रोल किया जा सकता है, लेकिन समय पर ट्रीटमेंट न करने से प्लेटलेट्स काउंट में अचानक गिरावट आने से हालत गंभीर हो सकती है। कई बार प्लेटलेट्स कम होने के कारण मरीज की मौत तक हो जाती है। ऐसी स्थिति में प्लेटलेट्स काउंट को मेंटेन रखना जरूरी होता है।
डेंगू से बचने के उपाय (Prevention From Dengue)
डेंगू से बचने का सबसे सरल उपाय है कि आप अपने आस-पास जलभराव न होने दें। अगर आस-पास पानी जमा हो तो उसमें मिट्टी भर दें। ऐसा करना संभव नहीं है तो उसमें मिट्टी के तेल की कुछ बूंदें डाल दें। पीने वाले पानी को हमेशा ढंक कर ही रखें। रात को सोते वक्त रोजाना मच्छरदानी का इस्तेमाल करें या फिर मॉस्किटो रिफिल या क्वॉयल लगाकर सोएं।
डेंगू के घरेलू उपचार (Home Remedies For Dengue)
डेंगू के लक्षण दिखने पर बगैर देर किए डॉक्टर से चेकअप करवाना चाहिए। इसके अलावा डॉक्टर की सलाह पर कुछ घरेलू उपचार भी आजमा सकते हैं।
पपीते के पत्तों का रस पिएं। इससे प्लेटलेट्स और व्हाइट ब्लड सेल्स की संख्या में वृद्धि होती है।
गिलोय को उबालकर काढ़ा बनाकर पिएं। यह इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है और डेंगू वायरस से लड़ता है, जिससे डेंगू बुखार पर जल्दी ही काबू पाया जा सकता है।
तुलसी की पत्तियों का काढ़ा पिएं। ये शरीर से टॉक्सिन को बाहर निकालती हैं।
पपीते का सेवन करें। इसमें मौजूद पोषक तत्व प्लेटलेट्स काउंट्स बढ़ाते हैं।
संतरे के जूस में विटामिन-सी और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो डेंगू वायरस को नष्ट करने में सहायक होते हैं।
डेंगू के मरीज को नारियल पानी पिलाएं, इसमें मौजूद मिनरल्स और इलेक्ट्रोलाइट्स शरीर की इम्यूनिटी को मजबूत बनाते हैं।
पके कद्दू को पीस कर उसमें 1 चम्मच शहद डालकर पिएं।
2 से 3 चम्मच एलोवेरा का जूस पानी में मिलाकर पिएं।
प्रस्तुतिः अजेश कुमार
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author