August 18, 2022

बरधा बांध पर रोजाना पहुंच रहे सैंकड़ों पर्यटक, सुरक्षा माकूल

wp-header-logo-218.png

news website
बूंदी. जिले के तालेड़ा क्षेत्र में स्थित बरधा बांध पर रोजाना सैंकड़ों की तादाद में पर्यटक पानी का लुप्त लेने के लिए पहुंच रहे हैं। 2 दिनों की बारिश में बरधा बांध भर चुका है और यहां पानी की चादर चल रही है। बांध 21 फीट गहरा है। हाड़ौती का गोवा कहे जाने वाले बरधा बांध में नहाने के लिए बड़ी संख्या में हर वर्ष पर्यटक पहुंचते हैं। जिस तरह यहां लोग पहुंच रहे हैं, ऐसा लगने लगा है कि पूरे मानसून सीजन में बूंदी का बरधा बांध पर्यटकों से गुलजार रहने वाला है।
पानी एकदम कांच की तरह चमकता है और हर वो चीज यहां मौजूद है, जो गोवा की फीलिंग देती है। लोगों की सुरक्षा के लिए बूंदी जिला प्रशासन ने हर पिकनिक स्थल पर सिविल डिफेंस के जवानों की तैनाती की है, ताकि कोई अनहोनी नहीं हो। जिले के रामेश्वर महादेव, भीमलत और बरधा बांध में हर वर्ष हजारों की तादाद में लोग पिकनिक बनाने के लिए लोग पहुंचते हैं।

तो कई बार लापरवाही से हादसे भी सामने आते हैं। लेकिन इस बार प्रशासन का कहना है कि पानी अधिक होने पर किसी भी सैलानियों को पानी के करीब जाने नहीं दिया जाएगा ताकि हादसा होने से बचा जा सके। बुधवार दोपहर को शहर और आसपास हुई करीब 1 घण्टे तेज वर्ष से जहां लोगो को गर्मी से राहत मिली, वहीं नदी, झीलों और नालों में पानी की अन्य दिनों के मुकाबले ज्यादा आवक हुई है। जिले के आधा दर्जन पिकनिक स्थलों पर पर्यटकों का जमावड़ा लगना शुरू हो गया है।
पानी की बोतल के 30 से 35 रुपए, पार्किंग के नाम पर खुली लूट
यहां पिकनिक मनाने आए कई लोगों ने बताया कि कुछ लोगों द्वारा अवैध रूप से पार्किंग के नाम पर लोगों को परेशान किया जा रहा है। अगर पार्किंग जलसंसाधन विभाग की और से ठेका देकर की जाए तो लोगों को गाड़ियों की पार्किग करने में पैसे भी कम खर्च करने पड़ेंगे और सुरक्षा भी रहेगी। इसी तरह कई लोगो ने कहा कि जल संसाधन विभाग के गेस्ट हाउस बांध परिसर में ओर इसके आसपास कई लोगों द्वारा मनमजी के दाम पार्किंग के नाम पर वसूले जा रहे हंै। यहां पर एक लोकल पानी की बोतल के 30 से 35 रुपए तक वसूले जा रहे हैं।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author