May 27, 2022

सरकार ने ब्यूटी कैमरा और स्वीट सेल्फी समेत चीन के 54 ऐप बैन किए

wp-header-logo-216.png

news website
नई दिल्ली. चीन पर भारत ने एक बार फिर बड़ी साइबर सर्जिकल स्ट्राइक की है। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा पैदा करने वाले 54 चीनी ऐप्स पर बैन लगा दिया है। इनमें ब्यूटी कैमरा और स्वीट सेल्फी HD जैसे पॉपुलर ऐप शामिल हैं।
बैन किए गए ऐप्स की लिस्ट में सेल्फी कैमरा, इक्वलाइजर एंड बास बूस्टर, सेल्सफोर्स एंट के लिए कैमकार्ड, आइसोलैंड 2: एशेज ऑफ टाइम लाइट, वाइवा वीडियो एडिटर, टेनसेंट एक्सरिवर, ओनमोजी चेस, ओनमोजी एरिना, ऐप लॉक और डुअल स्पेस लाइट शामिल हैं।
इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय ने अपनी पड़ताल में पाया कि ये सभी एप्स भारतीय यूजर्स का डेटा चीन और अन्य देशों में भेज रहे थे। इन ऐप्स के जरिए विदेशी सर्वर्स पर भी यूजर्स का डेटा पहुंच रहा था। सरकार ने इन ऐप्स को गूगल के प्ले-स्टोर समेत बाकी प्लेटफॉर्म से हटाने का आदेश दिया है।
कौन-कौन से ऐप हुए BAN?
सूत्रों के मुताबिक, Beauty Camera: Sweet Selfie HD, Beauty Camera – Selfie Camera, Equalizer & Bass Booster, CamCard for SalesForce Ent, Isoland 2: Ashes of Time Lite, Viva Video Editor, Tencent Xriver, Onmyoji Chess, Onmyoji Arena, AppLock, Dual Space Lite समेत 54 ऐप्स को बैन किया गया है।
Free Fire भी है लिस्ट में?
बता दें कि Garena Free Fire भी पिछले दो दिनों से Google Play Store और Apple App Store से गयाब है। अंदाजा लगाया जा रहा है कि इसे भी बैन किए गए ऐप्स की लिस्ट में होने के कारण रिमूव किया गया है। हालांकि, इस बात की फिलहाल ठोस जानकारी नहीं है। इस संबंध में न तो गरीना इंटरनेशनल की ओर से न ही Apple या Google की ओर से कोई जानकारी दी गई है।
पहले बैन हो चुके हैं 59 चीनी ऐप्स
भारत सरकार ने इसके पहले 29 जून 2020 को चाईनीज ऐप्स बैन किए थे। 29 जून 2020 को पहली डिजिटल स्ट्राइक करते हुए 59 ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया था। इसके बाद 27 जुलाई 2020 को 47, 2 दिसंबर 2020 को 118 और नवंबर 2020 को 43 ऐप्स पर बैन लगाया गया था। सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम की धारा 69 ए के तहत सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने इन सभी ऐप्स पर बैन लगाया है।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source