September 25, 2022

राजस्थान के एक करोड़ स्टूडेंट्स ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, एक साथ गाए देशभक्ति गीत

wp-header-logo-280.png

जयपुर। देश की आजादी को 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में मनाए जा रहे आजादी के अमृत महोत्सव व हर घर तिरंगा अभियान चलाया जा रहा है। इसी कड़ी में सामूहिक देश भक्ति गान कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने एक अनूठा रिकॉर्ड बनाया। राजस्थान में स्कूली बच्चों ने देशभक्ति के गीत गाकर वर्ल्ड रिकॉर्ड बना दिया। सुबह सवा दस बजे से 10 बजकर 40 मिनट तक प्रदेशभर में एक करोड़ स्टूडेंट्स ने एक साथ राष्ट्रभक्ति के गीत गाए। स्कूली बच्चों ने अपने पैसे से तिरंगा खरीद कर हाथों में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा लेकर एक साथ सामूहिक देशभक्ति के गीत गाए।
राजस्थान ने रचा इतिहास
मुख्य जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में कार्यक्रम का आयोजन हुआ। यहां राजधानी के 26,000 स्कूली बच्चों के साथ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत भी मौजूद रहे। बच्चों की इस उपलब्धि को वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड में जगह दी गई है। जिला प्रशासन ने स्कूली बच्चों से आह्वान किया कि आपके हाथों में जो राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा है इसको सभी बच्चे अपने घर पर ले जाकर फहराएंगे।
एक करोड़ बच्चों ने गाया देशभक्ति गीत
शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव पवन कुमार गोयल ने बताया कि प्रदेश के 67,000 सरकारी और 50,000 प्राइवेट स्कूलों को इसमें शामिल किया गया था। इनमें पूरे प्रदेश से कक्षा 9वीं से 12वीं तक पढ़ने वाले लगभग एक करोड़ बच्चों ने एक साथ 25 मिनट तक राष्ट्रभक्ति से जुड़े 6 गीत गाए। गोयल के मुताबिक बच्चों ने पूरे राजस्थान में एक ही समय पर एक सुर, लय और ताल के साथ गाया।
बच्चों को नशा मुक्ति की शपथ दिलाई
बारिश के इस मौसम में भी सरकारी व निजी स्कूली बच्चों में आजादी का अमृत महोत्सव को लेकर काफी उत्साह देखने को मिला। सभी बच्चों ने हाथों में तिरंगा लेकर 25 मिनट तक एक जगह खड़े रहकर देशभक्ति के गीत गाए। इसके बाद बच्चों को नशामुक्ति की शपथ भी दिलाई गई।
हर घर तिरंगा पहल
देश की जनता में देशभक्ति की भावना को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों से हर घर तिरंगा पहल के तहत अपने घरों में राष्ट्रीय ध्वज फहराने का अनुरोध किया था। पीएम ने नागरिकों से स्वतंत्रता दिवस से पहले 2 से 15 अगस्त से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपनी प्रदर्शन तस्वीर को राष्ट्रीय ध्वज में बदलने के लिए भी कहा है। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत घर.घर तिरंगा लगाने के साथ ही राजस्थान सरकार द्वारा राष्ट्रीय गीत गाकर स्वतंत्रता दिवस समारोह मनाया जाएगा। इसके लिए प्रदेशभर में जहां-जहां 15 अगस्त पर झंडा लहराया जाता है। उन्हीं स्थानों के साथ बड़े मैदान और गार्ड में स्कूली छात्र राष्ट्रीय भक्ति से जुड़े गीत गाते नजर आए।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author