January 29, 2023

प्रेम कहानी का अंत, 2 बच्चों के पिता और 4 बच्चों की मां ने एक साथ किया सुसाइड

wp-header-logo-177.png

जयपुर। प्रदेश के बाड़मेर जिले में एक प्रेम कहानी का दर्दनाक अंत हो गया। एक विवाहित महिला ने अपने प्रेमी के साथ फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। बताया जा रहा है कि दो बच्चों के पिता और 4 बच्चों की मां के बीच काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। प्रेम प्रसंग जब परवान चढ़ा तो दोनों ने अपना जीवन ही खत्म करने का फैसला ले लिया। दोनों ने आखिरी बार एक साथ मिलकर साथ खाना खाया और फिर कुछ इमोशनल वीडियो बनाए और उसके बाद एक साथ फांसी के फंदे पर झूल गए। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की जांच में जुटी गई है।
फांसी के फंदे पर लटक कर दे दी जान
वहीं पुलिस ने दोनों के शवों को अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया है। बता दें कि पूरा मामला बाड़मेर जिले के ग्रामीण थाना क्षेत्र के आटी गांव का है जहां बीते रात दोनों ने फांसी लगाकर जान दी। घटना की जानकारी मिलने के साथ ही पुलिस को पता चला कि एक घर के कमरे में एक महिला व युवक फांसी के फंदे पर लटके हुए हैं जिसके बाद आसपास के लोग व ग्रामीण पुलिस मौके पर पहुंची और परिजनों की मौजूदगी में दोनों शवों को नीचे उतारा गया।
दोनों के परिवारों में चल रहा था झगड़ा
बताया जा रहा है कि आटी गांव के रहने वाले माधाराम 2 बच्चों के पिता हैं और प्रेम प्रसंग के चलते माधाराम का अपनी पत्नी से लगातार झगड़ा चल रहा था। वहीं एक दिन पहले उसकी पत्नी बच्चों को लेकर अपने पीहर चली गई थी। इधर दूसरी तरफ माधाराम की प्रेमिका मगी चार बच्चों की मां है जो दो दिन पहले ही अपने घर से अचानक गायब हो गई जिसके बाद उसके पति ने लापता होने की रिपोर्ट भी थाने में लिखवाई। वहीं अब माधाराम और मगी दोनों के शव माधाराम के घर में एक ही फंदे से लटके मिले हैं।
ऐसे शुरू हुई थी लव स्टोरी
बताया जा रहा है कि माधाराम 2 साल पहले बूठ जैतमाल की रहने वाली 24 साल की मगी देवी से एक शादी में मिला था जिसके बाद दोनों के बीच प्रेम प्रसंग हो गया। वहीं बीते बुधवार को माधाराम की पत्नी के पीहर जाने के बाद माधाराम अपनी प्रेमिका मगी देवी को घर ले आया जहां दोनों ने शराब पार्टी की और उसके बाद फांसी का फंदा लगाकर सुसाइड किया।
जोधपुर : 6 बच्चों के पिता के साथ भागी 3 बच्चों की मां
वहीं, जोधपुर जिले के मतोड़ा थाना इलाके के बरसिंगो का बास गांव में सोमवार को भंवरलाल मेघवाल ने आत्महत्या कर ली। सुसाइड नोट में पत्नी सहित पांच लोगों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया है। मतोड़ा पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। ओसियां पुलिस उप अधीक्षक नूर मोहम्मद ने बताया कि घटना की जानकारी के अनुसार भंवरलाल की पत्नी को तकरीबन 6-7 महीने पहले रणीसर का मोहनराम भगा कर ले गया था। तब से वह मोहनराम के साथ रह रही है।
दुखी पति ने फंदा लगाकर दी जान
भंवरलाल के 3 बच्चे भी हैं, लेकिन बच्चों को छोड़कर वह प्रेमी के साथ रह रही है। उस दौरान पीड़ित पति भंवरलाल ने पुलिस में भी मामला दर्ज कराया था। तब पुलिस के बयान के अनुसार पत्नी किशना ने प्रेमी मोहनराम के साथ स्वेच्छा से रहने की सहमति जताई थी। उसके बाद से लगातार भंवरलाल मानसिक तनाव में रहने लग गया और भंवरलाल के ससुराल वालों ने भी साथ नहीं दिया। जानकारी के अनुसार पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर रोजाना वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर पोस्ट करती रहती थी। ऐसे में भंवरलाल बेहद मानसिक अवसाद में आ गया और पेड़ से लटक कर आत्महत्या कर ली।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author