December 3, 2022

भारत के इस रेलवे स्टेशन पर सालों से एक भी यात्री ने नहीं रखा कदम, जानें आखिर क्या है इसके पीछे का रहस्य

wp-header-logo-158.png

रेलवे स्टेशन (Railway Station) का नाम लेते ही हमारे दिमाग और आंखों के सामने भीड़ से खचाखच भरा स्टेशन सामने आ जाता है। जहां पैर रखने तक की जगह नहीं होती। वहीं जब आपको पता लगे कि भारत में एक ऐसा रेलवे स्टेशन भी है जहां सभी सुविधाओं से लेकर प्लेटफॉर्म और टिकट घर तक मौजूद है, लेकिन यहां आदमी क्या परिंदा भी नहीं आता है। इस स्टेशन से ट्रेने (Indian Train) गुजरती भी है और रूकती भी हैं, लेकिन न तो कोई यात्री यहां से चढ़ता है और न ही उतरता है।
दरअसल यह स्टेशन रांची रेल मंडल (Ranchi Rail Mandal) से मात्र 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। जहां ढाई साल से एक भी यात्री ने कदम नहीं रखा है। न ही यहां से एक भी पैसेंजर ट्रेन (Passenger Train) का परिचालन हुआ है। जबकि कुछ साल पहले यहां का नजारा इससे बिल्कुल विपरीत हुआ करता था। सुनसान पड़े इस स्टेशन पर कभी सैकड़ों की संख्या में यात्रियों का आवगमन हुआ करता था। मगर आज इस स्टेशन की स्थिति कुछ और ही है। यह स्टेशन कोई और नहीं बल्कि झारखंड के रांची से मात्र 20 किलोमीटर दूर मेसरा स्टेशन (Mesra Railway Station) है।
राचीं से सटे मेसरा स्टेशन (Mesra Station) का हाल काफी दयनीय हो चुका है। अब यहां के पूछताछ सेंटर (Inquire Centre) पर पैसेंजर नहीं बल्कि जानवर दिखते हैं। यहां तक की इस स्टेशन का साफ-सफाई से भी कोई नाता नहीं है। चारों ओर गंदगी, घास, और काई जमी हुई हैं। इस पूरे स्टेशन भवन में कुछ देखने को मिलता है तो वह है मकड़ी के जाले। कभी यात्रियों के सुविधा के लिए हैंड पम्प की व्यवस्था की गई थी, जहां आज जलजमाव की स्थिति बनी रहती है। रेलवे प्लेटफार्म पर जो व्यवस्था लोगों के बैठने के लिए की गई थी अब वह भी टूटने लगी है।

क्या है लोगों के स्टेशन पर न पहुंचने का कारण

दरअसल बढ़ते कोविड (Covid-19) के मामलों ने देश-प्रदेश की गतिविधियों को थाम दिया था। जिसके बाद ट्रेन का परिचालन बंद कर दिया गया। कोविड की रफ्तार में कमी होने के दो महीने बाद ट्रेन परिचालन की योजना बनाई थी, जिसे कई जरूरी कारणों से रद्द कर दिया गया। इसके बाद यहां पर से ट्रेन को दोबारा शुरू करने को लेकर अभी तक कोई फैसला नहीं लिया गया। इसके पीछे का कारण यह है कि साकी से सिद्धेश्वर के बीच रेलवे लाइन का काम अभी तक पूरा नहीं हुआ है। जिसके चलते रेल लाइन को बरकाकाना(Barkakana Junction) तक नहीं जोड़ा जा सका है। अब यह उम्मीद जताई जा रही है कि इस वर्ष के अंत तक इस निर्माण कार्य को पूरा कर लिया जाएगा। धनबाद रेल मंडल के सीनियर डीसीएम अमरेश कुमार ने कहा है कि ट्रेन का परिचालन शुरू नहीं हुआ है। साकी से सिद्धेश्वर के बीच रेलवे लाइन का निर्माण कार्य चल रहा है। जल्द ही निर्माण कार्य पूरा हो जाएगा। जिसके कुछ महीने बाद से यात्रियों को इसकी सुविधा मिलनी शुरू हो जाएगी।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author