December 3, 2022

राजौरी में आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश कर रहे 2 आतंकी ढेर, सेना के 3 जवान भी शहीद

wp-header-logo-257.png

news website
जम्मू. जम्मू कश्मीर के राजौरी जिले में स्वतंत्रता दिवस से पहले सुरक्षा बलों ने गुरुवार को एक बड़े आतंकी हमले को नाकाम कर दिया। राजौरी में आर्मी कैंप में घुसने की कोशिश कर रहे 2 आतंकी एनकाउंटर में ढेर हो गए।
वहीं, इस दौरान सेना के 3 जवान भी शहीद हो गए। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता लेफ्टिनेंट कर्नल देवेंद्र आनंद ने बताया कि परघल में एक सेना चौकी के संतरी ने सुबह-सुबह कुछ संदिग्ध लोगों को खराब मौसम और घने पत्तों का फायदा उठाते हुए परिसर में घुसने का प्रयास करते देखा।
संतरी ने हथगोला फेंककर चौकी में घुसने की कोशिश करते दो आतंकवादियों को चुनौती दी। सैनिकों ने इलाके की घेराबंदी कर दी और दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ में दो आतंकी मारे गए और छह जवान घायल हो गए। घायल जवानों में से तीन की बाद में मौत हो गई। उन्होंने बताया कि शहीद जवानों की पहचान राजस्थान के झुंझुनू के सुबेदार राजेंद्र प्रसाद, तमिलनाडु के मदुरै के राइफलमैन लक्ष्मणन डी और हरियाणा के फरीदाबाद के राइफलमैन मनोज कुमार के रूप में हुई है।
आतंकी हमले में झुंझुनूं के सूबेदार राजेंद्र प्रसाद भी शहीद
जम्मू-कश्मीर के राजौरी में आतंकी हमले में राजस्थान के झुंझुनू जिले के सूबेदार राजेंद्र प्रसाद भी शहीद हो गए। राजेंद्र प्रसाद (48) झुंझुनू जिले के मालीगांव के रहने वाले थे। 16 जुलाई को ही वह छुट्टी पूरी कर वापस ड्यूटी पर गए थे। वह नवंबर में होने वाली अपनी बेटी की शादी में घर आने वाले थे। इस बीच उनके शहीद होने की खबर परिवार वालों को मिली है।
राजेन्द्र प्रसाद वर्तमान में जम्मू कश्मीर के राजौरी जिला स्थित परगल में तैनात थे। राजेन्द्र प्रसाद की दो बेटियां और एक बेटा है। उनकी पत्नी तारामणी अपनी दो बेटियों प्रिया, साक्षी तथा बेटे अंशुल भाम्बू के साथ गांव में रहती हैं। जिला सैनिक कल्याण अधिकारी परवेज हुसैन ने बताया कि शहीद का पार्थिव शरीर शुक्रवार को झुंझुनूं पहुंचेगा।
सुरक्षाबल हाई अलर्ट पर
सूत्रों ने बताया कि संदिग्ध गतिविधियों की खुफिया सूचना मिलने के बाद राजौरी और पुंछ जिलों में सुरक्षा बलों को हाई अलर्ट पर रखा गया है। सुरक्षा बलों के जवान राजौरी के दरहल के कई इलाकों में तलाशी अभियान चल रहे हैं। स्वतंत्रता दिवस से पहले आतंकवादी हमले की आशंका के मद्देनजर सुरक्षा बलों की तैनाती बढ़ा दी गई है।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author