August 14, 2022

National Simplicity Day: जानें क्यों मनाया जाता है सिम्पलिसिटी डे, इन टिप्स से अपनी लाइफ को बनाएं सिंपल और हेल्दी

wp-header-logo-165.png

12 जुलाई के दिन हर साल नेशनल सिम्पलिसिटी डे (National Simplicity Day) मनाया जाता है, इस दिन को अमेरिकी (America) लेखक, कवि और दार्शनिक हेनरी डेविड थोरो (Henry David Thoreau) के जीवन और कामों का सम्मान करने के लिए मनाया जाता है। आज ही के दिन 1817 में हेनरी का जन्म हुआ था, वह एक साधारण सा जीवन जीने वाले बहुत ही आम से व्यक्ति थे। इस दिन के पीछे का मकसद यह है कि सभी लोग गैर जरूरी चीजों से मुक्त रहें और इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स (Electronic Gadgets) के बिना जीवन का आनंद लें। जैसे की आजकल के समय में सभी लोग अपने आसपास के नेचर (Nature) और लोगों से जुड़ने की जगह अपने फोन में लगे रहते हैं।
हेनरी डेविड थोरो के सम्मान में मनाया जाता है नेशनल सिम्पलिसिटी डे
अगर आप भी शांत (Peace) और साधारण (Simple) जीवन जीना चाहते हैं और पनि लाइफ को खुशहाल बनाना चाहते हैं तो आपको अपने लाइफस्टाइल (Liefstyle) में कुछ जरूरी बदलाव करने होंगे, साथ ही फोन के एडिक्शन (Phone Addiction) को छोड़कर अपने और फोन के बाहर की दुनिया पर फोकस करना होगा। अगर आप भी हेनरी डेविड थोरो की ही तरह सिंपल लिविंग, हाई थिंकिंग (Simple Living, High Thinking) वाली जिंदगी जीना चाहते हैं तो हम आपको कुछ टिप्स बताते हैं, जिन्हें अपनाकर आप हैप्पी, हेल्दी और मजेदार जिंदगी जी सकते हैं।
सुस्ती को पीछे छोड़कर हमेशा एक्टिव रहें
अगर आपक खुदको पूरे दिन एक्टिव और खुश रखना चाहते हैं तो सबसे पहले अपने स्लीपिंग शेड्यूल को सुधारिए। दरअसल समय से सोने के बहुत से फायदे हैं, अगर आप पूरे 7-8 घंटे की नींद लेते हैं तो आपकी सुबह खुशनुमा हो जाएगी, आप उठते के साथ ही चिड़चिड़ा महसूस नहीं करेंगे। इसके बाद आप एक्टिव (Active) रहने के लिए एक्सरसाइज (Exercise), योग (Yog), मॉर्निंग वॉक (Morning Walk), मेडिटेशन (Meditation) आदि कर सकते हैं। ऐसा करने से आपके अंदर ऊर्जा आएगी और आप पूरे दिन चुस्ती से काम में मन लगा पाएंगे।
पेट भरकर खाना खाएं
छोटे बच्चों से लेकर बड़ों तक हर किसी को अपनी लाइफ में बस भागते रहना है, फर्क बस इतना है कि कोई नौकरी (Job) के लिए भागता है तो कोई स्कूल (School) और कॉलेज (College) में दूसरों को पछाड़कर आगे निकलने की रेस में भाग रहा है। इस भागदौड़ भरी जिंदगी में हम अपने लिए ही टाइम निकालना भूल गए हैं, हम सभी के पास इतनी सी भी फुर्सत नहीं होती है कि हम शान्ति (Peace) से बैठकर भरपेट खाना खा सकें। ऐसे में आपको अपनी डाइट (Healthy Diet) का पूरा ख्याल रखना है, भूख लगने पर खाना ना खाना भी कई बीमारियों को न्योता देता है। साथ ही आपके शरीर की एनर्जी को भी लगातार कम करता रहता है, तो हेल्थी और भरपेट खाना खाएं।
फोन या सोशल मीडिया का इस्तेमाल कम करें
आजकल के समय में बच्चे से बुजुर्ग तक हर इंसान के पास फोन होना बहुत ही आम सी बात है। हम स्कूल (School), कॉलेज (College) और वर्क प्लेस (Work Place) के बाद अपना सबसे ज्यादा समय सोशल मीडिया (Social Media) और फोन (Phone) पर ही बिताते हैं, हम सभी को सुबह आंख खुलने के साथ ही फोन चेक करने की जिज्ञासा लगी रहती है। रात में आंख बंद होने तक हमारे हाथ में फोन रहता है, हमे पूरे दिन में जरा सा भी फ्री टाइम (Free Time) मिलता है तो हम उसे फोन चलाने में ही बिता देते हैं। इससे हमारी आंखों के साथ-साथ मानसिक कष्ट भी होता है। जरूरत से ज्यादा किसी भी चीज का इस्तेमाल नुकसानदायक होता है, इसलिए जितना हो सके उतना फोन का इस्तेमाल कम करें।
सॉरी और थैंकयू बोलने में कभी न झिझकें
हमे अपनी गलती या किसी का आभार मानने में कभी भी झिझकना नहीं चाहिए, कहने को तो सॉरी (Sorry) और थैंकयू (Thank You) दो बहुत छोटे से शब्द हैं लेकिन इन शब्दों का प्रभाव बहुत अधिक होता है। अगर आप अपनी गलती मानकर किसी को सॉरी कहते हैं तो आप अपनी उस भूल को भूल मानकर सुधार पाएंगे लेकिन अगर आप अपनी गलती ही नहीं मानेंगे तोह आप उसे सुधार भी नहीं सकते हैं। ठीक इसी तरह अगर आप किसी का आभार मान लेते हैं तो आप थैंकयू कहने से छोटे नहीं हो जाते, अगर आप अपने जीवन में इन दो शब्दों का इस्तेमाल करना सिख गए तो आपकी जिंदगी आधी टेंशन फ्री (Tension Free) तो खुद ही हो जाएगी।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author