August 15, 2022

JEE Main Result: एलन की स्नेहा को परफेक्ट स्कोर, 3 स्टूडेंट्स को 100 पर्सेन्टाइल, 10 स्टेट टॉपर्स एलन से

wp-header-logo-155.png

news website
कोटा. नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जेईई-मेन जून-2022 का परिणाम जारी कर दिया। परिणामों में एक बार फिर एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट के स्टूडेंट्स ने श्रेष्ठता साबित की है। एलन के निदेशक डॉ.बृजेश माहेश्वरी ने बताया कि संस्थान की छात्रा स्नेहा पारीक ने परफेक्ट स्कोर हासिल कर रिकॉर्ड बनाया है। स्नेहा ने 100 पर्सेन्टाइल के साथ 300 में से 300 अंक प्राप्त किए हैं तथा आसाम स्टेट टॉप किया है। स्नेहा पिछले दो वर्षों से एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट की क्लासरूम स्टूडेंट है।
इसके साथ ही एलन के क्लासरूम स्टूडेंट्स नव्य ने 100 पर्सेन्टाइल स्कोर कर राजस्थान स्टेट टॉप किया है। इसी तरह कुशाग्र श्रीवास्तव ने 100 पर्सेन्टाइल स्कोर किया है और झारखंड टॉप किया है। डॉ.माहेश्वरी ने बताया कि एलन के नव्य ने राजस्थान, दिव्यांशु मालू ने ओडिशा, सम्यक जैन ने मध्यप्रदेश, अदवई कृष्णा ने महाराष्ट्र, कुशाग्र श्रीवास्तव ने झारखंड, माहित गढीवाला ने गुजरात, अभिनव राजेश श्रीपद ने छत्तीसगढ़, सार्थ सिंगला ने चंडीगढ़, आदित्य अजय ने बिहार तथा स्नेहा पारीक ने आसाम टॉप किया है।
डॉ. माहेश्वरी ने बताया कि जेईई-मेन का पहले अटेम्प्ट जो कि 23 से 29 जून के मध्य 14 पारियों में संपन्न हुआ, जिसमें 24 से 29 जून के मध्य बीई-बीटेक के स्टूडेंट्स 12 पारियों में शामिल हुए। यह परीक्षा देश-विदेश के 588 परीक्षा केन्द्रों व 407 परीक्षा शहरों में हुई। यह परीक्षा 13 भाषाओं में हुई। परीक्षा के लिए कुल 8 लाख 72 हजार 432 स्टूडेंट्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया था, जिसमें से 7 लाख 69 हजार 589 स्टूडेंट्स परीक्षा में शामिल हुए। परीक्षा में सम्मिलित कुल स्टूडेंट्स में 7,59,589 में 5 लाख 47 हजार 867 लड़के तथा 2 लाख 21 हजार 719 लड़कियां शामिल थी। जेईई मेन की अगली सैकेंड अटेम्प्ट के रूप में 21 से 30 जुलाई के बीच होगी।
प्रेक्टिस टेस्ट से फायदा मिला :स्नेहा पारीक
जेईई मेन : 100 पर्सेन्टाइल – परफेक्ट स्कोर – 300/300
पिता : राजीव पारीक (व्यापारी)
मां : सरिता पारीक, गृहिणी
जन्मतिथि : 8 अक्टूबर 2003
जेईई मेन जून सेशन में 300 में से 300 अंक हासिल करने वाली छात्रा स्नेहा पारीक ने बताया कि मैं रोजाना 12 घंटे स्टडी करती हूं, यानी सुबह 8 बजे एलन जाती हूं और क्लास के बाद भी वहीं रूककर पढ़ाई करती हूं। इससे यह फायदा होता है कि इंस्टीट्यूट में पढ़ाई के माहौल में खुद की भी अच्छी पढ़ाई हो जाती है और कोई डाउट सामने आने पर तुरंत फैकल्टी से पूछकर उसे क्लीयर कर लेती हूं। फिर रात्रि में 8 बजे घर लौटती हूं। मेरा विश्वास है कि नींव मजबूत होनी चाहिए। पिछले दो साल में जो भी पढ़ाया, वही जेईई मेन में काम आया।
इसके अलावा प्रेक्टिस टेस्ट से काफी सपोर्ट मिला, क्योंकि इनका पैटर्न और डिफीकल्टी लेवल जेईई मेन जैसा होता है। इससे मेन के पेपर में परेशानी नहीं आई। फैकल्टीज अनुभवी और सपोर्टिव है। अब मेरा फोकस जेईई एडवांस्ड क्रेक करने पर है। मैं आईआईटी मुम्बई से सीएस ब्रांच में बीटेक करना चाहती हूं। एलन की दो साल से क्लासरूम स्टूडेंट स्नेहा ने 10वीं कक्षा 95 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण की। स्नेहा केवीपीवाय स्कॉलर भी है। पिता राजीव पारीक व्यवसायी हैं तथा मां सरिता पारीक गृहिणी हैं।
लोगों की लाइफ इजीयर बनाना चाहता हूं :कुशाग्र
जेईई मेन : 100 पर्सेन्टाइल
इंस्टीट्यूट : एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट
पिता : संतोष कुमार (एक्जीक्यटिव इंजीनियर, झारखंड सरकार)
मां : नीलम लता (ज्वाइंट सेक्रेट्री, झारखंड सरकार)
जन्मतिथि : 17 सितम्बर 2004
जेईई मेन जून सेशन में 100 पर्सेन्टाइल स्कोर करने वाले एलन स्टूडेंट कुशाग्र श्रीवास्तव तकनीक के माध्यम से मानवता की सेवा की इच्छा रखता है। आईआईटी मुम्बई से कम्प्यूटर साइंस की पढ़ाई करने के इच्छुक कुशाग्र ने बताया कि तकनीक के माध्यम से लोगों की लाइफ को और अधिक इजीयर बनाने का लक्ष्य है, क्योंकि अभी भी हर क्षेत्र और हर व्यक्ति तक तकनीक की पहुंच और जीवन पर प्रभाव पूरा नहीं आ रहा है।
पिछले दो वर्षों से एलन में अध्ययनरत कुशाग्र ने बताया कि रोजाना 6 से 7 घंटे सेल्फ स्टडी करता हूं। रोजाना की कोचिंग के बाद रिवीजन, होमवर्क और एनसीईआरटी की सेल्फ स्टडी ही सफलता की कुंजी है। पिता संतोष कुमार झारखंड सरकार में ही एक्जीक्यूटिव इंजीनियर हैं, वहीं मां नीलम लता झारखंड सरकार में ज्वाइंट सेक्रेटरी है। लगातार पढ़ाई के बाद रिक्रिएशन के लिए पेरेन्ट्स से बात करता हूं। इसके अलावा बैडमिंटन खेलना पसंद है। मम्मी-पापा से बात करके रिफ्रेश महसूस करता हूं और उनकी बातों से मोटिवेट भी होता हूं।
टीचर्स के सपोर्ट की वजह से यहां तक पहुंचा :नव्य
जेईई मेन: 100 पर्सेन्टाइल / राजस्थान टॉपर
इंस्टीट्यूट : एलन कॅरियर इंस्टीट्यूट
पिता: राकेश चंद्र हिसारिया (व्यापारी)
मां: पूनम हिसारिया (गृहिणी)
जन्मतिथि: 3 नवंबर 2005
नव्य हिसारिया ने जेईई मेन जून सेशन 2022 में 100 पर्सेन्टाइल स्कोर के साथ राजस्थान टॉप किया है। एलन क्लासरूम स्टूडेंट नव्य ने बताया कि मैं रोजाना करीब 12 घंटे स्टडी करता हूं। सुबह 5:30 बजे से दिन की शुरूआत होती है और रात्रि में 11 बजे तक सोने चला जाता हूं। इस दौरान मै क्लासरूम के अलावा सेल्फ स्टडी करता हूं। शुरू से आदत रही है कि सुबह के समय फिजिक्स, दिन में मैथ एवं शाम को कैमिस्ट्री पढ़ता हूं। इससे फायदा यह होता है कि तीनों सब्जेक्ट को बराबर का समय मिल जाता है और एग्जाम की तैयारी बैलेंस्ड रहती है।
एनसीईआरटी बेस्ड सिलेबस व पिछले सालों के प्रश्न पत्रों को सॉल्व करने पर ज्यादा फोकस किया। मूलत: हनुमानगढ निवासी नव्य ने कहा कि एलन के स्टडी मैटेरियल के अलावा अन्य किसी रेफरेंस बुक या ऑनलाइन वीडियो का सहारा नहीं लिया। 10वीं कक्षा 97.40 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण की है और केवीपीवाय में ऑल इंडिया 13वीं रैंक हासिल कर चुका हूं। इसके अलावा राष्ट्रीय स्तर के फिजिक्स ओलंपियाड को क्वालिफाई कर चुका हूं। एलन के टीचर्स अनुभवी होने के साथ ही स्टूडेंट्स के साथ भावनात्मक रूप जुड़े रहते हैं। हर स्टूडेंट की परफॉर्मेन्स पर उनका फोकस रहता है। अब अगला लक्ष्य जेईई एडवांस्ड क्रेक कर आईआईटी मुम्बई की सीएस ब्रांच से बीटेक करना है।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author