January 20, 2022

Budget 2022: क्या है हलवा सेरेमनी और उसके पीछे की खास वजह, जानिए…

wp-header-logo-157.png

हमारे भारत में किसी भी शुभ कार्य से पहले मीठा जरूर खिलाया जाता है। इसलिए तो अधिकतर घरों में किसी भी कार्य के लिए जाने से पहले दही-चीनी का सेवन करवाते हैं। कुछ ऐसी परंपरा देश में बजट पेश करने से पहले अपनाई जाती है। हर साल भारत में आम बजट (Budget 2022-23) को पेश किया जाता है, जो हर जन के लिए महत्वपूर्ण है। वहीं, इस बार आम बजट (Budget 2022) को 01 फरवरी, 2022 को वित्त मंत्री (Finance Minister) निर्मला सीतारमण द्वारा पेश किया जाएगा। क्या आप जानते हैं कि आम बजट को पेश करने से पहले हलवा सेरेमनी (Halwa Ceremony 2022) की जाती है। अगर नहीं, तो आइए आपको इस सेरेमनी के बारे में बताने के साथ इसके पीछे की वजह भी बताते हैं…
हलवा सेरेमनी कहां होती है?
देश का आम बजट बहुत महत्वपूर्ण है। इसे पेश करने के कुछ दिनों पहले हलवा सेरेमनी रखी जाती है। ये सेरेमनी वित्त मंत्रालय के मुख्याल दिल्ली के नॉर्थ ब्लॉक में होती है। इस परंपरा को हर साल निभाया जाता है और इस बार भी हलवा सेरेमनी को सेलिब्रेट किया जाएगा।
हलवा सेरेमनी क्या है?
बजट बनाने की प्रक्रिया में शामिल हुए स्टाफ मेंबर्स और अधिकारियों की कोशिशों के लिए हलवा सेरेमनी एक तरह का मान्यता देता है। इस दौरान एक बड़े बर्तन हलावा बनाया जाता है। बनने के बाद उसी बड़े बर्तन से सभी वित्त मंत्रालय के अधिकारियों को हलवा परोसते हैं। इस दौरान वित्त मंत्री समेत सभी स्टाफ मेंबर्स होते हैं।
10 दिनों तक परिवार या करीबियों से दूरी
सेरेमनी खत्म हो जाने के बाद सभी अधिकारी और कर्मचारी वहां के बेस्टमेंट में बजट प्रक्रिया को पूरा करने के लिए चले जाते हैं। इस दिन के बाद से 10 दिनों तक, जब तक बजट पेश न हो जाए तब तक किसी भी अधिकारी या कर्मचारी अपने घर समेत पूरी दुनिया से डिसकनेक्टेड रहते हैं। जब देश का बजट वित्त मंत्री द्वारा पूरा पढ़ दिया जाता है तब ही ये लोग वहां से बाहर निकल पाते हैं। इतना ही नहीं इनके मोबाइल फोन तक जब्त हो जाते हैं। इस तरह का नियम इसलिए बनाया गया है जिससे बजट से संबंधित कोई जानकारी लीक न हो सके।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source