December 6, 2022

दुनिया की पहली सलाइवा बेस्ड प्रेगनेंसी किट इजरायल में लॉन्च, 2023 तक इन देशों में होंगी उपलब्ध

wp-header-logo-197.png

World’s First Saliva-Based Pregnancy Test Kit: इजरायली (Israel) स्टार्टअप द्वारा विकसित सैलीस्टिक दुनिया की पहली लार आधारित गर्भावस्था परीक्षण किट है। इस किट से महिलाएं अपने सलाइवा की मदद से इस बात का पता लगा सकती हैं कि वह प्रेग्नेंट है या नहीं। बता दें कि यह इजराइली किट 2023 तक दुनिया भर के कई देशों तक पहुंच जाएगी। द टाइम्स ऑफ इजरायल में गुरुवार को प्रकाशित हुई एक खबर के मुताबिक, सैलीस्टिक टेस्ट किट 2023 तक यूरोप, दक्षिण अफ्रीका और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में उपलब्ध होंगे। इस सैलीस्टिक टेस्ट में खून या पेशाब के नमूने की आवश्यकता नहीं होती है और यह 10 मिनट से कम समय में आपको सटीक परिणाम देता है।
2023 तक कई देशों में पहुंच जाएगी ये किट
बायोटेक कंपनी के प्रमुख उत्पाद सैलीस्टिक परीक्षण किट ने यूरोपीय सीई प्रमाणीकरण (European CE certification) प्राप्त कर लिया है। इसके साथ ही इजराइली फर्म का दावा है कि 2023 की पहली तिमाही में प्रोडक्ट्स की डिलीवरी शुरू करने के लिए वितरकों से बातचीत की जा रही है। फर्म को यूरोप में इस किट को डिस्ट्रीब्यूट करने की मंजूरी मिल गई है। अब इजरायल की यह फर्म संघ बाजार (federal market) और वर्तमान में संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) में एफडीए अप्रूवल के लिए आवेदन कर रही है।
को-फाउंडर प्रोफेसर आरोन पाल्मन ने कही ये बात
सैलिग्नोस्टिक्स के को-फाउंडर प्रोफेसर आरोन पाल्मन (Aaron Palmon) ने कहा, “इंसान का लार कई तरह की मेडिकल कंडीशंस में तेजी से डायग्नोज करने में सहायक होता है। यह हार्मोन, वायरस और यहां तक ​​​​कि बीमारियों का पता लगाने का एकमात्र आसान और स्वच्छ साधन है।” प्रोफेसर आरोन पाल्मन ने आगे कहा, “सैलीस्टिक के साथ हम शक्तिशाली डायग्नोज क्षमताओं का लाभ उठाते हैं। यह प्रोडक्ट गर्भावस्था के परीक्षण के दौरान खून और पेशाब के नमूनों की आवश्यकता को पूरी तरह से खत्म कर देता है।”
इन बीमारियों का भी लगाया जा सकता है पता
बता दें कि इजराइल के हिब्रू विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने 2016 में सैलिग्नोस्टिक्स की स्थापना की थी। कंपनी के संस्थापकों ने इस्तेमाल करने वालों के अनुकूल गैजेट विकसित करने से पहले वैज्ञानिक उद्देश्यों के लिए लार का अध्ययन करने में वर्षों बिताए, जो मलेरिया और कोविड -19 से लेकर हृदय संबंधी जोखिम तक कई तरह की बीमारियों का सटीक पता लगाते हैं। कंपनी ने बिक्री, मार्केटिंग, रीसर्च और ग्रोथ को बढ़ावा देने के लिए $16 मिलियन जुटाए हैं और अधिक जुटाने को लेकर विचार चल रहा है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author