August 18, 2022

Rajasthan Rajya Sabha Election 2022 : कांग्रेस को 3 तो BJP को 1 सीट, सुभाष चंद्रा हारे

wp-header-logo-131.png

जयपुर। राजस्थान में राज्यसभा चुनाव के नतीजे आ गए हैं। यहां कांग्रेस ने तीन सीटों पर जीत हासिल की है। जबकि एक सीट बीजेपी जीती है। कांग्रेस से रणदीप सुरजेवाला, मुकुल वासनिक और प्रमोद तिवारी चुनाव जीत लिया हैं। जबकि बीजेपी से घनश्याम तिवारी चुनाव जीत गए हैं। वहीं, निर्दलीय उम्मीदवार सुभाष चंद्रा को हार का सामना करना पड़ा। रणदीप सुरजेवाला को मिले 43 वोट, मुकुल वासनिक को मिले 42 वोट, वासनिक के खाते का एक वोट हुआ रिजेक्ट। घनश्याम तिवाड़ी को 43 वोट मिले, प्रमोद तिवारी को 41 वोट मिले। कांग्रेस कैम्प में खुशी का माहौल है। डॉ. सुभाष चंद्रा को 30 वोट मिले। राज्यसभा की चार सीटों के लिए आज मतदान हुआ। वोटिंग सुबह 9 बजे शुरू हुई और शाम 4 बजे तक चली। राज्यसभा चुनावों में राजस्थान की गहलोत सरकार हर मोड़ पर सावधानी बरतती नजर आई। कहीं विधायकों पर नजर रख रही तो कहीं इंटरनेट बंद रखा।
क्रॉस वोटिंग पर बीजेपी नाराज, हाईकमान ने रिपोर्ट मांगी
बीजेपी की एक विधायक शोभारानी कुशवाहा ने क्रॉस वोटिंग की है। उन्होंने कांग्रेस के प्रमोद तिवारी का वोट दिया है। चुनाव आयोग ने इस संबंध जानकारी दी है। दिल्ली में पार्टी हाईकमान ने राजस्थान में बीजेपी विधायकों की क्रॉस वोटिंग पर प्रदेश अध्यक्ष सतीश पुनिया से रिपोर्ट मांगी है। उप नेता प्रतिपक्ष राजेंद्र राठौड़ ने कार्रवाई की मांग की है।
सभी विधायकों ने डाले वोट
राजस्थान में राज्यसभा चुनाव के लिये चल रही मतदान प्रकिया निर्धारित समय से पहले ही पूरी हो गई है। शुक्रवार सुबह से मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से लेकर सचिन पायलट और बीजेपी के नेता वसुंधरा राजे से लेकर सतीश पूनिया समेत तमाम नेता विधानसभा पहुंचे। अलग अलग विधायक कतारों में लगकर मतदान किया।
राजेंद्र राठौड़ और गोविंद सिंह के बीच हुई ​तीखी बहस
बीजेपी विधायक शोभारानी कुशवाह का वोट खारिज हो गया है। वह धौलपुर से विधायक हैं। दूसरी बीजेपी विधायक कैलाश मीणा के वोट पर विवाद हुआ है। वहां राजेंद्र राठौड़ और गोविंद डोटासरा में तीखी बहस भी हुई। गढ़ी विधायक राजेंद्र राठौड़ ने बीजेपी के पोलिंग एजेंट को अपना वोट दिखाया था। हालांकि आपत्ति वाले दोनों वोट खारिज नहीं हुए।
आमेर में प्रशासन ने बंद किया इंटरनेट
सरकार ने अपनी पार्टी और उसके समर्थित निर्दलीय विधायकों की सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए। आमेर के होटल लीला में रूके इन नेताओं की सुरक्षा के लिए प्रशासन ने आमेर इलाके में 12 घंटे के लिए इंटरनेट सेवा बंद कर दी। संभागीय आयुक्त जयपुर विकास सीताराम ने गुरुवार रात रात 9 बजे से शुक्रवार की सुबह 9 बजे तक आमेर तहसील के पूरे इलाके में इंटरनेट बंद रखने का आदेश जारी किया।
प्रदेश में है 200 सीटें
बता दें कि राजस्थान में 200 विधानसभा सीटें हैं जिनमें कांग्रेस के 108 विधायक हैं। बीजेपी के 71 विधायक हैं, निर्दलीय 13, बीटीपी के 2, सीपीएम के 2, आरएलडी का एक विधायक है। कांग्रेस ने दावा किया था उनके 108 विधायक, 13 निर्दलीय, 2 सीपीएम, 2 बीटीसी और एक आरएलडी के विधायकों सहित 126 विधायकों का समर्थन है।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author