November 28, 2022

खामोशी के साथ हुआ सियासी ब्रेकअप: बिहार में पांच साल बाद नीतीश कुमार ने भाजपा के साथ खत्म किया गठबंधन

wp-header-logo-240.png

news website
पटना. बिहार में तेजी से बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के भाजपा से एक बार फिर नाता तोड़ने की घोषणा की। इसके बाद नीतीश कुमार ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया और अब राष्ट्रीय जनता दल (राजद), कांग्रेस तथा वामपंथी दलों के साथ गठजोड़ कर नई सरकार बनाने की कवायद शुरू कर दी है।
नीतीश कुमार बुधवार दोपहर 2 बजे एक बार फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। उनके साथ उपमुख्यमंत्री भी शपथ लेंगे। इसके लिए तेजस्वी यादव का नाम चर्चा में है। नीतीश कुमार ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी से भी फोन पर बात की। जदयू के सांसद, विधायक और पार्टी के पदाधिकारियों के साथ बैठक में भाजपा से नाता तोड़ने का निर्णय लिए जाने के बाद मुख्यमंत्री शाम करीब 4 बजे राजभवन पहुंचे। राज्यपाल फागू चौहान को अपना इस्तीफा सौंप दिया।
इसके बाद नीतीश सीधे पूर्व मुख्यमंत्री तथा राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव की पत्नी राबड़ी देवी के सरकारी आवास पर पहुंचे। कांग्रेस विधायक शकील अहमद खान ने कहा कि नीतीश कुमार महागठबंधन की नई सरकार में मुख्यमंत्री होंगे। सब कुछ तय हो गया है और अब जल्दी ही नई सरकार बनेगी।
नई सरकार बनाने का दावा पेश
नीतीश कुमार ने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) समेत सात दलों के समर्थन से नई सरकार बनाने का मंगलवार को दावा पेश किया। कुमार ने मंगलवार को जदयू 45, राजद 79, कांग्रेस 19, वामदलों 16, हिंंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) के 4 और एक अन्य विधायक यानी कुल 164 विधायकों का समर्थन पत्र राज्यपाल को सौंपकर प्रदेश में नई सरकार बनाने का दावा पेश किया।
इस दौरान उनके साथ राजद के वरिष्ठ नेता तेजस्वी प्रसाद यादव और बिहार में कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास भी उपस्थित थे। राज्यपाल चौहान ने कुमार को फिलहाल नई सरकार बनाने का न्यौता नहीं दिया है। सरकार गठन का न्यौता मिलने के बाद शपथ ग्रहण की तारीख तय की जाएगी। ऐसे में राज्यपाल ने कुमार को प्रदेश के कार्यवाहक मुख्यमंत्री के रूप में काम करने को कहा है।
मांझी की पार्टी ने भी भाजपा से किया किनारा
बदलते राजनीतिक घटनाक्रम के बीच हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (हम) ने भी भाजपा से अपना नाता तोड़ लिया। पूर्व मुख्यमंत्री एवं हम के संरक्षक जीतनराम मांझी ने मंगलवार को कहा कि उनकी पार्टी एनडीए को छोड़कर बिना किसी शर्त के नीतीश कुमार के नेतृत्व में महागठबंधन की सरकार को अपना समर्थन देगी।
मैंने पहले ही कहा था, नीतीश एनडीए से अलग होंगे: चिराग
लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं बिहार के जमुई लोकसभा सीट से सांसद चिराग पासवान ने राज्य में मंगलवार के घटनाक्रम पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की कड़ी आलोचना की। उन्होंने कहा, मैंने पहले ही कहा था कि कुमार भाजपा का साथ छोड़ देंगे। कुमार ने बिहार को अंधेरे में झोंकने दिया है। यदि उनमें राजनीतिक साहस है तो वह अकेले चुनाव लड़कर जनादेश लें।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source

    About Post Author