August 10, 2022

न्यू ईयर पर नाकेबंदी पर तैनात कॉन्स्टेबल को रौंदा, अज्ञात तेज रफ्तार गाड़ी ने कुचला

wp-header-logo-5.png

जयपुर। नए साल की शुरुआत अच्छी नहीं हुई। जम्मू-कश्मीर में कटरा स्थित वैष्णो देवी मंदिर में देर रात करीब 2 बजकर 45 मिनट पर भगदड़ मचने से 13 श्रद्धालुओं की मौत हो गई। वहीं इस हादसे में करीब 15 लोगों घायल हो गए है। इनमें से 3 की हालत गंभीर बताई जा रही है। प्रदेश की राजधानी जयपुर में न्यू ईयर पर नाकेबंदी पर तैनात कॉन्स्टेबल को एक अज्ञात वाहन ने कुचल दिया। यह घटना सुबह 5 बजे हरमाड़ा अलाके में बनी चैक पोस्ट की है। घटना का पता चलने पर साथी पुलिसकर्मियों में शोक की लहर दौड़ गई। प्रारंभिक जानकारी के अनुसार मृतक कांस्टेबल संजय यादव (35) है। वह मूल रुप से झुंझुनूं का रहने वाला था। वर्ष 2006 बैच में राजस्थान पुलिस में भर्ती हुआ था। यहां जयपुर ट्रैफिक पुलिस में चालान शाखा में पदस्थापित था।
रात्रि नाकाबंदी में थी ड्यूटी
31 दिसंबर को न्यू ईयर के जश्न पर तेज रफ्तार वाहन चलाकर हुड़दंग मचाने वाले चालकों के खिलाफ कार्रवाई के लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मियों को रात में नाकाबंदी में लगाया गया था। इसमें कांस्टेबल संजय यादव की सीकर रोड पर हरमाड़ा थाने के पास रात्रि नाकाबंदी में तैनाती थी। वह शनिवार सुबह वाहनों की चैकिंग कर रहे थे। तभी तेज रफ्तार गाड़ी ने संजय को टक्कर मारी और कुचलते हुए निकल गई। हादसे में गंभीर घायल संजय को अस्पताल पहुंचाया गया, लेकिन उनकी मौत हो गई। नए साल पर रात 12 बजे के बाद संजय ने अपने कुछ नजदीकी साथी पुलिसकर्मियों को नए साल की बधाई देते हुए शुभकामनाओं के संदेश भेजे थे।
वैष्णो देवी : 8 लोगों की हुई शिनाख्त
माता वैष्णो देवी नारायण सुपरस्पेशलिटी अस्पताल के न्यूरोसर्जन डॉ जेपी सिंह ने बताया कि 15 घायलों को अस्पताल लाया गया। 4 आईसीयू में भर्ती हैं और 11 लोगों की हालत स्थिर हैं। 3-4 लोगों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई। 5 का अभी भी इलाज चल रहा है। अभी तक 8 लोगों की शिनाख्त हुई है। अस्पताल प्रशासन की तरफ से मृतकों की सूची जारी गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और जम्मू-कश्मीर के उपराज्‍यपाल मनोज सिन्हा सहित कई नेताओं ने इस घटना पर दुख जताया है। एलजी मनोज सिन्हा ने आज की भगदड़ की उच्च स्तरीय जांच के आदेश दे दिए गए हैं।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author