January 30, 2023

कपिल देव ने भी बांधे सूर्यकुमार यादव की तारीफों के पुल, बोले- 'सदी में एक बार आते हैं ऐसे खिलाड़ी…'

wp-header-logo-144.png

1983 में कपिल देव की अगुआई में भारतीय टीम ने पहला वनडे वर्ल्ड कप जीता था। कपिल देव (Kapil Dev) की गिनती भारत के महानतम कप्तानों और खिलाड़ियों में होती है। कपिल देव अपने बेबाक स्वभाव के लिए जाने जाते हैं। वह क्रिकेट से जुड़े मुद्दों पर अपनी राय रखते हैं। अब कपिल ने भारतीय क्रिकेट के सुपरस्टार सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) को लेकर बयान दिया है। कपिल ने सूर्य की तारीफ करते हुए कहा कि ऐसा खिलाड़ी सदी में एक बार आता है।
कभी-कभी मेरे पास शब्दों की कमी हो जाती
कपिल देव (Kapil Dev) ने एक चैनल पर बातचीत करते हुए कहा “कभी-कभी मेरे पास शब्दों की कमी हो जाती है। जब हम सचिन तेंदुलकर, रोहित शर्मा, विराट कोहली को देखते हैं तो हमें आश्चर्य होता है कि हम ऐसा खिलाड़ी फिर कब देखेंगे। साथ ही उन्होंने कहा “भारत में बहुत प्रतिभा है। सूर्य जिस तरह से क्रिकेट खेल रहे हैं, उन्हें कोई रोक नहीं रहा है। वो काबिले तारीफ है। वो लैप शॉट, फाइन लेग शॉट के अलावा खड़े खड़े मिड ऑन और मिड विकेट की ओर भी छक्का जड़ सकते हैं, जिससे गेंदबाज डर जाता है”।
उन्होंने आगे कहा कि “सूर्यकुमार अपनी बल्लेबाजी के अंदाज से गेंदबाजों को मुश्किल कर में ले आते है और वो गेंदबाजी की लाइन-लेंथ का बेहद अच्छी तरह से पढ़ लेते और मैदान के चारों ओर खेल लेते है। मैंने विवियन रिचर्ड्स, एबी डिविलियर्स, सचिन तेंदुलकर, विराट कोहली और रिकी पोंटिंग जैसे कई महान (legendary batsmen) और दिग्गज बल्लेबाजों को देखा है। हालांकि ऐसे कुछ ही लोग होंगे, जो सूर्यकुमार की तरह सफाई के साथ गेंद को खेल पाते हैं। सूर्याकुमार यादव (Suryakumar Yadav) जैसे बल्लेबाज सदी में एक बार ही आते है”।
सूर्या का तूफानी शतक
गौरतलब है कि सूर्यकुमार यादव (Suryakumar Yadav) ने राजकोट में श्रीलंका के खिलाफ तूफानी बल्लेबाजी की। उन्होंने महज 51 गेंदों में 112 रन की शतकीय पारी खेली। टीम इंडिया ने पांच विकेट खोकर 228 रनों का पहाड़ खड़ा कर दिया। श्रीलंकाई टीम 137 रन पर ऑल आउट हो गई। टीम इंडिया ने सीरीज 2-1 से जीती।
© Copyrights 2023. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author