December 6, 2022

राजस्थान में चार इंच तक बारिश: अगले 3 दिनों का 15 जिलों में अलर्ट, हवा चलने से सर्दी का अहसास

wp-header-logo-101.png

जयपुर। प्रदेश में मानसून को विदा हुए 5 दिनों का समय बीत चुका है लेकिन लगता है कि मानसून में शुरू हुई बारिश की मेहरबानी उसके विदा होने के बाद भी बनी हुई है। प्रदेश में एक नया सिस्टम सक्रिय होने के साथ ही प्रदेश के अधिकतर जिलों में एक बार फिर से बारिश का दौर शुरू हो चुका है। कोटा, उदयपुर, भरतपुर, जयपुर और अजमेर संभाग के कई हिस्सों में तेज बारिश हो रही है। हाड़ौती के अलावा मध्य प्रदेश में तेज बारिश से चंबल का जलस्तर भी बढ़ गया, जिसके बाद प्रशासन ने देर रात कोटा बैराज के गेट खोल दिए। वहीं, इस बारिश ने किसानों की मेहनत पर भी पानी फेर दिया है। जयपुर में शुक्रवार देर रात शुरू हुआ बारिश का दौर अब तक जारी है।
कई जिलों में 4 इंच तक बारिश
पिछले 24 घंटे की रिपोर्ट देखें तो करौली, अलवर, अजमेर, उदयपुर, बारां, कोटा, डूंगरपुर, चित्तौड़गढ़, टोंक, बूंदी, जयपुर, दौसा, भरतपुर समेत कई शहरों में तेज बरसात हुई। मौसम विभाग के अनुसार बारां, करौली, सवाई माधोपुर समेत कई जिलों में 2 से लेकर 4 इंच तक बारिश रिकॉर्ड हुई है। सबसे ज्यादा बरसात करौली में 118MM (4 इंच से ज्यादा) तक हुई है। तेज बरसात के बाद करौली में शहर में जगह-जगह पानी भर गया। इसके अलावा चित्तौड़गढ़, बारां, सवाई माधोपुर, बूंदी जिलों के कई हिस्सों में 50MM (2 इंच से ज्यादा) से ज्यादा पानी बरसा है।
आज भी कई जगह बारिश की चेतावनी
मौसम केन्द्र जयपुर ने आज प्रदेश की राजधानी जयपुर, टोंक, दौसा, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, करौली, बूंदी, कोटा, झालावाड़, सवाईमाधोपुर,अजमेर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़, उदयपुर, राजसमंद, डूंगरपुर, बांसवाड़ा, प्रतापगढ़, चूरू, झुंझुनू, चूरू,सीकर, नागौर जिलों मे कहीं-कहीं पर हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई है।
हवा चलने से सर्दी का अहसास
जयपुर में कल से मौसम में बदलाव देखने को मिला। देर रात करीब 11 बजे से हल्की बूंदाबांदी हुई, जो शनिवार को भी जारी है। जयपुर में सुबह चार बजे तक 5MM बारिश रिकॉर्ड हुई। बारिश के कारण प्रदेश के मौसम में भी ठंडक बढ़ गई। इसके साथ ही देर रात चली हवा से सर्दी का अहसास होने लगा। जयपुर में बीती रात का न्यूनतम तापमान गिरकर 22.7 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। वहीं, दिन का तापमान भी 28.8 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया, जो सामान्य से 6 डिग्री सेल्सियस कम है।
अगले 3 दिनों तक झमाझम बरसेंगे बादल
मौसम विभाग के अनुसार, राजस्थान के ऊपर सक्रिय हुए नए सिस्टम के चलते अगले 3 दिनों तक प्रदेश के सभी जिलों में मध्यम से तेज बारिश की संभावना है। इस सिस्टम का असर फिलहाल पूर्वी राजस्थान के ऊपर पूरी तरीके से बना हुआ है तो धीरे-धीरे पश्चिमी राजस्थान की ओर इस सिस्टम के आगे बढ़ने की संभावना है। इस सिस्टम के असर के चलते पूर्वी राजस्थान के करीब सभी जिलों में आज भी मध्यम से तेज बारिश होने की संभावना है तो वहीं पश्चिमी राजस्थान के भी अधिकतर जिलों में बारिश की संभावना है।
किसानों को फसल की चिंता, होगा नुकसान
जयपुर में बीती शाम से ठंडी हवाओं के साथ ही बूंदाबादी का दौर जारी है। इसके साथ ही लगातार बादलों की आवाजाही का सिलसिला जारी है। प्रतापनगर, टोंक रोड, मालवीयनगर, सीकररोड, दिल्ली रोड, मानसरोवर, सांगानेर क्षेत्र में लगातार हल्की बारिश का दौर जारी है। इसके साथ ही तापमान में तीन डिग्री की गिरावट दर्ज की गई। बारिश से किसानों फसल की चिंता सता रही है। बाजरा, मूंग, मोठ की फसल को काफी नुकसान पहुंचा हैं। हालांकि रबी फसलों की बुवाई में बारिश से लाभ होगा।
बीसलपुर बांध के फिर से गेट खुलने के आसार
बीसलपुर बांध के गेट एक बार फिर से खुलने के आसार हैं। शनिवार सुबह से त्रिवेणी से पानी की आवक में तेजी नजर आ रही है। बांध के गेट खोलने को लेकर तैयार बांध परियोजना ने अलर्ट जारी किया है। त्रिवेणी का गेज 3.70 मीटर दर्ज किया। कैचमेंट एरिया के गम्भीरी व जेतपुरा बांध के एक-एक गेट फिलहाल खुले हुए हैं।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author