November 27, 2022

Lunar Eclipse 2022: साल के आखिरी चंद्र ग्रहण का आपकी सेहत पर कैसा होगा प्रभाव, जानें कुछ अहम बातें

wp-header-logo-146.png

Lunar Eclipse 2022 Effect On Your Health: 8 नवंबर यानी आज साल 2022 का आखिरी चंद्रग्रहण (lunar eclipse 2022) लगने वाला है। यह अद्भुत खगोलीय घटना (astronomical event) चांद निकलने के समय से करीब 2 घंटे तक दिखाई देगी।
बता दें कि चंद्र ग्रहण तब होता है जब पृथ्वी सूर्य और चंद्रमा के बीच में आ जाती है। ग्रहण के (Lunar Eclipse Effect On Health) दौरान चांद अंब्रा (umbra) में प्रवेश करता है, जो पृथ्वी की छाया का सबसे काला हिस्सा है। इस दौरान चांद का रंग लाल हो जाता है और इसे ब्लड मून (Blood Moon) कहा जाता है। जैसा कि हम सभी जानते हैं, ग्रहण को लेकर लोग कई तरह की बातें करते हैं। इन बातों में कितनी सच्चाई है और कितनी (Chandra Grahan Ka Sehat Par Prabhav) मिथ्या यह समझपाना थोड़ा मुश्किल है। सदियों पुराने मिथकों के मुताबिक भोजन को लेकर क्या खाना चाहिए और क्या नहीं, इस पर कई प्रतिबंध हैं। इसके साथ ही ज्योतिषियों का यह तक मानना ​​है कि आपके शरीर पर चंद्र ग्रहण (Lunar Eclipse) के कुछ स्वास्थ्य पर प्रभाव भी होते हैं। आइए जानते हैं यह प्रभाव (Lunar Eclipse Effect On Health) अच्छे होते हैं या बुरे:-
यहां हम आपको चंद्र ग्रहण को लेकर कुछ लोकप्रिय मान्यताएं बताएंगे, साथ ही उनका खंडन करने के लिए वैज्ञानिक प्रमाण भी हैं:
1. ग्रहण से हो सकता है चर्म रोग (eclipse can cause skin diseases)

ज्योतिषियों का कहना है कि ग्रहण के दौरान हमारे शरीर में कफ होता है, जिससे स्किन रोगों और अन्य समस्याओं जैसे कि ब्रेकआउट, मुंहासे, फुंसी, उम्र बढ़ने के शुरुआती संकेत आदि की संभावना बढ़ जाती है। हालांकि, इस दावे का कोई वैज्ञानिक समर्थन नहीं है।
2. ग्रहण से आंखों पर पड़ सकता है असर (Eclipse can affect the eyes)
चंद्र ग्रहण के दौरान लोगों को सलाह दी जाती है कि वे चंद्रमा की हानिकारक किरणों से बचाव के लिए आंखों की सुरक्षा के लिए चश्मा आदि पहनें। हालांकि सूर्य ग्रहण के विपरीत चंद्रमा की किरणें आंखों के लिए बिल्कुल भी हानिकारक नहीं होती हैं।
3. ग्रहण भोजन को दूषित करता है (eclipse contaminates food)

यह भी सलाह दी जाती है कि ग्रहण के समय कुछ भी न खाएं क्योंकि इस समय भोजन दूषित हो जाता है और पाचन की प्रक्रिया को धीमा कर सकता है, जिससे कई बीमारियां हो सकती हैं। दूसरी ओर, यह मानने के लिए कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है कि कोई ग्रहण के कारण भोजन में किसी तरह की कोई जीवाणु अशुद्धियां (bacterial impurities) होती हैं। हालांकि आयुर्वेद के अनुसार आपके शरीर पर कफ के प्रभाव को कम करने के लिए आप सोंठ को पानी या मसाले जैसे काली मिर्च या तेज पत्ता के साथ थोड़ी मात्रा में ले सकते हैं।
4. ग्रहण प्रजनन क्षमता को प्रभावित करता है (eclipse affects fertility)
कई संस्कृतियों में चंद्रमा प्रजनन (Fertility) का प्रतीक है। तो, चंद्र ग्रहण के बारे में कई लोगों का मानना है कि यह एक ओवुलेटिंग महिला के गर्भ धारण करने का आदर्श (ideal time for an ovulating woman to conceive) समय हैं।वैज्ञानिक रूप से, 28 दिनों (लगभग 4 सप्ताह) का औसत मासिक धर्म चक्र, और अगले मासिक धर्म की शुरुआत से लगभग 14 दिन (लगभग 2 सप्ताह) पहले ओव्यूलेशन पीरियड होता है। यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि प्रत्येक महिला के मासिक धर्म चक्र की लंबाई अलग-अलग होती है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author