December 3, 2022

NEET UG Result 2022 : कोटा की तनिष्का ऐसे बनी नीट टॉपर, बताया सक्सेस मंत्र

wp-header-logo-193.png

जयपुर। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) ने बुधवार देर रात देश की सबसे बड़ी मेडिकल प्रवेश परीक्षा NEET UG 2022 का रिजल्ट (NEET UG Result 2022) जारी कर दिया है। इस परीक्षा में तनिष्का ने आल इंडिया रैंक-1 प्राप्त की है। तनिष्का मूलरूप से हरियाणा की रहने वाली है और दो साल कोटा में रहकर NEET UG की तैयारी की हैं। तनिष्का ने 720 में से 715 अंक प्राप्त किए हैं।
NEET रिजल्ट में कोचिंग सिटी कोटा की बादशाहट बरकरार
इन नतीजों के साथ एक बार फिर कोचिंग सिटी कोटा की बादशाहट बरकरार रही है। कोटा का डंका बजा है। नीट के नतीजों में ऑल इंडिया रैंक पर कोटा की एलन कोचिंग की छात्रा तनिष्का ने कब्जा करते हुए बाजी मारी है । तनिष्का ने कोटा की एलन कोचिंग संस्थान में मेडिकल की तैयारी की और जो मुकाम हासिल किया है।
टॉपर तनिष्का का सक्सेस मंत्र
तनिष्का बताती हैं कि NEET की तैयारी के दौरान कंसेप्ट्स को गहराई से समझने के लिए ज्यादा से ज्यादा प्रश्न पूछती थी, हिचकिचाती नहीं थी। कभी टेस्ट में मार्क्स कम आते थे तो पेरेन्ट्स मोटिवेट करते थे। उन्होंने कभी मार्क्स के लिए दबाव नहीं डाला। पॉजिटिविटी के साथ तैयारी करते रहने के लिए मोटिवेट किया. वह रोजाना 6-7 घंटे सेल्फ स्टडी करती थी।
माता पिता, दोस्त और कोटा कोचिंग को दिया क्रेडिट
तनिष्का ने बताया कि लॉकडाउन के दौरान कॉन्फिडेंस में थोड़ी कमी आई पर पेरेंट्स और टीचर्स की मदद से उन्होंने इस मुश्किल को संभाल लिया। ये उनके लिए बूस्टर डोज की तरह था। इस मुकाम को हासिल करने के बाद तनिष्का ने अपनी कामयाबी के लिए अपने माता पिता अपने दोस्त और कोटा कोचिंग को क्रेडिट दिया है। वहीं तनिष्का के माता पिता को आज अपनी बेटी पर नाज है।
JEE Mains में भी 99.50 परसेंटाइल कर चुकी हैं स्कोर
देश की ऑल इंडिया नीट टॉपर तनिष्का ने हाल ही में हुई इंजीनियरिंग दाखिला परीक्षा जेईई मेन में भी 99.50 फीसदी पर्सेन्टाइल के साथ टॉपर्स में जगह बनाई थी। दिल्ली एम्स से MBBS करने की इच्छुक तनिष्का कार्डियो, न्यूरो या ओन्कोलॉजी में स्पेशलाइजेशन करना चाहती है। तनिष्का के पिता कृष्ण कुमार सरकारी स्कूल में टीचर हैं और मां सरिता कुमारी भी सरकारी स्कूल में व्याख्याता हैं। तनिष्का ने इसी साल 12वीं में 98.6 फीसदी अंक और इससे पहले क्लास 10 में 96.4 फीसदी अंक हासिल किए थे।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author