December 3, 2022

Health Tips: सेहत में चाहते हैं सुधार तो डेली रूटीन में ऐड करें ये 5 बहुत ही अहम आदतें, लाइफस्टाइल में दिखेगा बदलाव

wp-header-logo-178.png

Health Tips: हेल्दी लाइफ के लिए बहुत ज्यादा एफर्ट करने की जरूरत नहीं होती है, लेकिन जिस तरह हमारा लाइफस्टाइल लगातार बिगड़ता ही जा रहा है। इसलिए हमे अपनी सेहत पर थोड़ा ध्यान देने की जरूरत है, अगर आप कुछ सिंपल रूल्स को ही अपनी डेली लाइफ में फॉलो करना शुरू कर दें तो लंबे समय तक हेल्दी और फिट रह सकते हैं। इन रूल्स के बारे में आप भी जरूर जानना चाहेंगे। तन और मन की फिटनेस के लिए एक अनुशासित दिनचर्या, एक्सरसाइज और सही खानपान जरूरी है। यहां हम आपको मेंटली और फिजिकली फिट रहने के लिए कुछ सिंपल हेल्थ रूल्स (How To Have a Healthy Lifestyle) के बारे में बता रहे हैं।
न्यूकैसल यूनिवर्सिटी में मेडिसिन एंड मेटाबॉलिज्म के प्रोफेसर रॉय टेलर के अनुसार, ‘आप चाहें तो वेट लॉस के टारगेट को आसानी से अचीव कर सकते हैं। बस ठान लें कि रोजाना 800 कैलोरी से ज्यादा शरीर में नहीं जाने देंगे।’ ओवरवेट लोगों के लिए यह बेहद आसान है। ऐसा करके आप 1-2 किलो वजन तो लीवर और मसल्स में स्टोर ग्लाइकोजन का लेवल कम करके घटा सकते हैं। लॉन्ग टर्म में 800 कैलोरी इनटेक मेंटेन करना संभव ना हो तो आगे चलकर पुरुष 1600 से 1800 कैलोरी और महिलाएं 1300 से 1500कैलोरी लेकर भी वेट कंट्रोल कर सकते हैं।
सूर्य की रोशनी विटामिन डी का बेहतरीन स्रोत है। यह विटामिन न सिर्फ हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ रखता है बल्कि मानसिक सेहत भी दुरुस्त रखता है। रोज कम से कम 20 मिनट तक सूरज की रोशनी में रहने से विटामिन डी की आपूर्ति होती है और ओवरऑल हेल्था इंप्रूव होती है। यूनिवर्सिटी ऑफ मैनचेस्टर के शोधकर्ताओं ने भी अपने देश और क्षेत्रों के मुताबिक सुरक्षित समय देखकर रोज 20 मिनट धूप में रहने की सलाह दी है।
यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज के ताजा अध्ययन में कहा गया है कि वैसे तो 8 घंटे की नींद एक मैजिक नंबर है लेकिन मिड एज के बाद आपको कुछ कम देर नींद की जरूरत पड़ सकती है। पांच लाख से ज्यादा लोगों पर किए गए अध्ययन के बाद पता चला है कि रोजाना 7 से 8 घंटे की अच्छी नींद लेने वालों की मेंटल हेल्थ अच्छी रहती है। ये अवसाद और तनाव से कम पीड़ित होते हैं। इनका बौद्धिक स्तर सही रहता है और मेमोरी भी अच्छी रहती है। इस अध्ययन की मुखिया साइकिएट्रिस्ट के प्रोफेसर बारबरा साहाकियान हैं।
स्लिम रहने और वेट कंट्रोल करने के लिए लोग अकसर डाइट ड्रिंक पीने लगते हैं। लेकिन ऐसा देख गया है कि ये ड्रिंक आपके वेट कंट्रोल में मददगार नहीं होते हैं। कई अध्ययनों और शोधों में पाया जा चुका है कि इनमें आर्टिफिशियल स्वीटनर्स होते हैं। ये स्वीटनर्स हमारे ब्रेन को कैलोरी इनटेक के लिए स्टिमुलेट कर सकते हैं। ऐसे में आप स्वीट डिशेज खाने को प्रेरित होते हैं। जर्नल ऑफ़ अमेरिकन जेरियाट्रिक सोसाइटी में प्रकाशित शोध में बताया गया है कि जो बुजुर्ग रोज डाइट ड्रिंक लेते थे उनकी वेस्टलाइन में 9 वर्षों में 8 सेंटीमीटर की बढ़ोतरी हो गई, जबकि इनका सेवन न करने वालों में मात्र 2 सेंटीमीटर का इजाफा हुआ।
सीढ़ी चढ़ना पैरों और ग्लूट मसल्स के साथ-साथ हार्ट और लंग्स के लिए भी एक अच्छी एक्सरसाइज है। यहां तक कि दिन में तीन बार मात्र 20- 20 सेकेंड के लिए भी आप ब्रिस्क स्टेयर क्लाइंबिंग (चढ़ना और बिना पीछे देखे रिवर्स होना) करें तो आपको इससे काफी फायदा मिलेगा। कनाडा की मैकमास्टर यूनिवर्सिटी के एक्सरसाइज साइंटिस्ट्स ने 6 हफ्तों तक स्वस्थ युवकों के समूह पर अध्ययन करने के बाद यह सलाह दी है। यूरोपीयन सोसायटी ऑफ कार्डियोलॉजी कान्फ्रेंस में प्रस्तुत एक शोध रिपोर्ट में बताया गया कि एक मिनट में 60 सीढ़ियां चढ़ने की क्षमता हेल्दी हार्ट का संकेतक है।
सजेशन
शिखर चंद जैन
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author