January 27, 2023

सर्दियों में पहले से ज्यादा जानलेवा हुए कोविड, फ्लू और आरएसवी, ऐसे लगाएं नए लक्षणों का पता

wp-header-logo-95.png

Differentiate Between RSV, Coronavirus and Common Cold: विंटर सीजन (Winter Season) अपने साथ बहुत सारी मौसमी बीमारियां लेकर आता है। इस बार भी फ्लू का मौसम पूरी तैयारी के साथ वापस आया है। बता दें कि साल 2020 और 2021 कोरोना काल में बीता था, इस समय में सांस संबंधी बीमारियों का बोलबाला था। लेकिन इन सब समस्याओं से छुटकारा पाने के बाद, इस साल ऐसे वायरस ज्यादा वापस आ रहे हैं जिन्हें हम पहले से जानते हैं। यूनाइटेड स्टेट्स के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) ने इस फ्लू के मौसम में इन्फ्लूएंजा और श्वसन सिन्सिटियल वायरस (आरएसवी) दोनों के मामलों में उच्च स्तर को रिकॉर्ड किया है। विशेषज्ञों का मानना है कि 2009 की स्वाइन फ्लू महामारी के बाद से इन्फ्लूएंजा और आरएसवी का प्रकोप लगातार बढ़ा है। दुनियाभर में पिछले दो साल कोरोना महामारी का आतंक रहा था, अभी इस महामारी के आंकड़ों में ठहराव आया है।
लॉस एंजिल्स के अधिकारी हाल ही में कोरोना मामलों में हुई वृद्धि के बीच एक इनडोर मास्क मैंडेट की वापसी पर सोच-विचार कर रहे हैं। इन सांस संबंधी वायरस के कई लक्षण एक जैसे होते हैं, साथ ही ये बीमारी आसानी से एक-दूसरे में फैल सकती है। लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं हैं कि इनमें कोई अनोखे लक्षण नहीं होते हैं।इन बीमारियों में ऐसी बहुत सी बातें हैं जो उन्हें एक-दूसरे से अलग बनाती हैं। यह देखते हुए कि सर्दियों के मौसम में इन्फ्लूएंजा, आरएसवी और कोरोना वायरस तीनों बीमारियां लोगों को बड़ी मात्रा में प्रभावित कर सकती हैं, इसलिए आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि सर्दियों में आपकी बहती नाक, खांसी, सिर दर्द और बदन दर्द के पीछे असली कारण क्या है?
रेस्पिरेटरी सिंक्राइटियल वायरस (respiratory syncytial virus)
अक्सर नज़रअंदाज़ किए जाने वाले रेस्पिरेटरी सिंक्राइटियल वायरस (RSV) मामलों ने अमेरिका में तूफान ला दिया है, यह वायरस बच्चों के माध्यम से बड़ी मात्रा में फैल रहा है और देश भर के अस्पतालों को भर रहा है। यह वायरस छोटे बच्चों के लिए सबसे खतरनाक है, सीडीसी के मुताबिक हर साल 300 से 500 लोगों की इससे मौत होती है। सांस से संबंधित यह वायरस 65 वर्ष से अधिक आयु के वयस्कों के लिए भी एक खतरा है, हालांकि कोविड या इन्फ्लूएंजा के मुकाबले कम खतरनाक है। प्रमुख सार्वजनिक एजेंसी की रिपोर्ट है कि नाक बहना, खांसी, छींकना और सांस लेने में तकलीफ इस वायरस के सबसे आम लक्षण हैं।
लेकिन आगे इस वायरस की चपेट में बच्चे आते हैं तो उनमें लक्षण दूसरे हो सकते हैं। बच्चों में अक्सर बुखार और भूख न लगने की समस्या देखी जाती है, ये लक्षण आरएसवी मामलों वाले वयस्कों के लक्षणों से बहुत अलग होते हैं। अन्य वायरस से बिल्कुल विपरीत आरएसवी पेट की समस्याओं के साथ नहीं आता है। गंध और स्वाद की हानि, दस्त, मतली और उल्टी जैसे लक्षण आमतौर पर आरएसवी से जुड़े नहीं होते हैं। अधिकारियों के अनुसार, आरएसवी से पीड़ित व्यक्ति को कभी-कभी दर्द या थकान हो सकती है, ये लक्षण बहुत रेयर होते हैं।आरएसवी वायरस के सबसे गंभीर मामले में एक बच्चा अपने फेफड़ों में छोटे वायुमार्ग (Small Airways) की सूजन से पीड़ित हो सकता है। इस स्थिति को ब्रोंकियोलाइटिस, निमोनिया या फिर फेफड़ों का संक्रमण कहा जाता है।
कोविड के नए लक्षण (Coronavirus)
कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए लॉस एंजेलिस ने चेतावनी दी है कि कोविड के मामले बढ़ने पर वह कुछ ही हफ्तों में इनडोर मास्क मैंडेट कर सकते हैं। देश की कोविड प्रतिक्रिया नीति में कहा गया है कि कोरोना के मामले बढ़ने के बाद सभी लोगों का मास्क लगाना अनिवार्य हो जाएगा। लॉस एंजिल्स में हर रोज 3,186 कोविड संक्रमण दर्ज किए जा रहे हैं, जो नवंबर की शुरुआत में दर्ज किए गए 1,000 दैनिक मामलों की तुलना में बड़ी वृद्धि है। यह प्रत्येक दिन आठ मौतें भी दर्ज की जा रही है।
बता दें कि कोरोना महामारी की शुरुआत में, लोगों को कोविड के तीन चेतावनी संकेतों से सावधान रहने के लिए कहा गया था: स्वाद या गंध की कमी, लगातार खांसी और बुखार। लेकिन जैसे-जैसे नए वेरिएंट विकसित हुए और कोरोना वैक्सीन के साथ ही बार-बार आयी कोविड की लहरों ने वायरस के खतरे को कम किया। अधिकारी अब कोविड से जुड़े 12 लक्षणों की पहचान करते हैं। यूके के लक्षण-ट्रैकिंग अध्ययन के मुताबिक, वायरस के सबसे अधिक लक्षण अब नाक बहना (66 प्रतिशत), गले में खराश (65 प्रतिशत), सिरदर्द (64 प्रतिशत), लगातार खांसी (63 प्रतिशत) और थकान (62 प्रतिशत) है। स्टडी के मुताबिक वायरस अभी भी अमेरिका में घूम रहा है, लेकिन उस दर से नहीं जैसा पिछली सर्दियों में था। देश में प्रतिदिन लगभग 50,000 संक्रमण के मामले दर्ज किए जा रहे हैं।
कोविड के सबसे अनोखे लक्षण गंध या स्वाद का पूरी तरह से खत्म हो जाना है, जिसे एनोस्मिया के रूप में जाना जाता है। जो सर्दी और फीवर में शायद ही कभी रिपोर्ट किया जाता है। हार्वर्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने जुलाई 2020 में एक अध्ययन प्रकाशित किया था जिसमें दिखाया गया था कि वायरस नाक में रक्त वाहिका कोशिकाओं (virus attacks blood vessel cells) और स्टेम कोशिकाओं (stem cells) पर हमला करता है, जो नर्वस को ऊर्जा प्रदान करते हैं और मस्तिष्क को गंध महसूस करने में मदद करते हैं। हालांकि, ऑमिक्रॉन से स्वाद या गंध के नुकसान की संभावना कम होती है, क्योंकि वैरिएंट नाक के बजाय फेफड़ों की गहराई में ज्यादा प्रभाव डालता है।
कोविड के लिए सूचीबद्ध नए लक्षणों में केवल दस्त और मतली या उल्टी कोरोना वायरस के हैं और आरएसवी या सामान्य सर्दी के कारण नहीं होते हैं। इससे पता चलता है कि अगर आपको खांसी के साथ-साथ ये लक्षण भी हैं, तो यह कोविड हो सकता है। इस सिचुएशन में अधिकारी लोगों को घर पर रहने और कोविड के लक्षण होने पर अन्य लोगों के संपर्क में आने से बचने का निर्देश देते हैं।
सामान्य जुकाम (common cold)
सामान्य सर्दी साल भर लोगों को प्रभावित कर सकती है लेकिन सर्दियों में सबसे ज्यादा फैलती है। दो साल के लॉकडाउन ने लोगों की सर्दी के प्रति प्रतिरोधक क्षमता कम कर दी है। खांसी, गले में खराश, बहती नाक और छींक सैकड़ों वायरस के कारण होने वाले सबसे आम लक्षण हैं, जो सामान्य सर्दी का कारण बनते हैं। सिर दर्द और बदन दर्द, बुखार, थकान और भूख न लगना भी सर्दी के स्पष्ट संकेत हो सकते हैं। सूजी हुई आंखें भी एक संकेत हो सकती है कि आप मौसमी एलर्जी के बजाय कोल्ड से ग्रस्त हैं। इस बीच, पहले के लक्षणों के अलावा डायरिया, मतली या सांस लेने में तकलीफ होना यह संकेत दे सकता है कि यह आप असल में एक साधारण सर्दी के बजाय कोविड से ग्रस्त है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author