December 5, 2022

IND vs SA: आखिरी ओवर में संजू की एक गलती पड़ी भारी, इस वजह से भारतीय टीम पहला वनडे हारी

wp-header-logo-73.png

क्रिकेट: भारत और दक्षिण अफ्रीका (ind vs sa odi ) के खिलाफ गुरुवार को खेले गए पहले वनडे में भारत को हार सामना करना पड़ा। अफ्रीका ने मैच को 9 रन से जीतकर तीन मैचों की सीरीज में 1-0 की बढ़त (1-0 lead) बना ली है। संजू सैमसन (Sanju Samson) भारतीय टीम को जीत की ओर लेकर बढ़ रहे थे लेकिन उनकी एक गलती की वजह से भारत मैच गंवानी पड़ी। बारिश के कारण मैच निर्धारित समय से दो घंटे देरी से शुरू हुआ। तो मैच 40-40 ओवर का हो गया। भारतीय कप्तान (Indian captain) शिखर धवन ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी स्वीकार करने के बाद अफ्रीका ने 4 विकेट पर 249 रन बनाए। जवाब में भारत 40 ओवर में 8 विकेट पर 240 रन ही बना सका।
अफ्रीका ने की अच्छी शुरुआत
अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी (batting) करते हुए अच्छी शुरुआत दी। 49 के स्कोर पर यानेमन मलान 22 रन बनाकर शार्दुल ठाकुर (Shardul Thakur) का शिकार हुए। इसके बाद कप्तान टेम्बा बवुमा (Temba Bavuma)को 8 रन के स्कोर पर ठाकुर ने बोल्ड कर दिया। एडेन मार्करम (Aiden Markram) को बिना खाता खोले ही कुलदीप यादव (Kuldeep Yadav) ने चलता किया। दूसरी ओर डीकॉक ने एक छोर संभालकर रखा लेकिन 110 के स्कोर पर वो भी चलते बने। इसके बाद डेविड मिलर और हेनरिक क्लासेन (Heinrich Klaasen) ने शानदार पारी खेली। दोनों ने पहले अपने-अपने अर्धशतक पूरे (half-centuries) किए और फिर रनगति को बढ़ाते हुए टीम को 40 ओवर तक 249 तक पहुंचा दिया।
भारत की बेहद खराब शुरुआत
250 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम (Indian team) की शुरुआत अच्छी नहीं रही और 8 के स्कोर पर ही दोनों सलामी बल्लेबाज पवेलियन लौट गए। इसके बाद ईशान किशन और ऋतुराज गायकवाड़ (Rituraj Gaikwad) ने पारी संभाली लेकिन 51 के स्कोर तक दोनों आउट हो गए। इसके बाद श्रेयस अय्यर और संजू सैमसन ने मोर्चा संभाला और भारत को 100 के पार पहुंचाया। अय्यर ने तेजी से खेलते हुए अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन उसके तुरंत बाद आउट हो गए। इसके बाद शार्दुल ठाकुर(Shardul Thakur) के साथ मिलकर संजू ने पारी को आगे बढ़ाया और जीत की उम्मीदों को जिंदा रखा। शार्दुल भी 33 रन बनाकर आउट हो गए।
भारतीय टीम को आखिरी 12 गेंद में 37 रन चाहिए थे। आवेश खान (Avesh Khan) ने उस ओवर में दो गेंद डॉट की और तीसरी गेंद पर छोर बदलने का मौका आया तो संजू दो रन दौड़ गए। यहां अगर वो स्ट्राइक अपने पास रखते और आगली तीन गेंद खेल सकते थे। आखिरी ओवर में भारतीय टीम 9 रन से दूर रह गई। उस ओवर में अगर संजू सैमसन तीन गेंद खेल लेते तो शायद मैच का नतीजा कुछ और होता। हालांकि सैमसन (Samson) ने नौ चौकों और तीन छक्कों की मदद से करियर की सर्वश्रेष्ठ नाबाद 86 रन की पारी खेली।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author