August 9, 2022

Knowledge News: विश्वभर में अब जीना क्यों होता जा रहा है और महंगा, जानिए क्या है वजहें

wp-header-logo-147.png

Knowledge News: दुनिया में वर्तमान समय में महंगाई के कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। आज के इस दौर में घरेलू सामान (household items) से लेकर कंप्यूटर तक की कीमतें बढ़ती जा रही हैं। महंगाई (Dearness) में कोरोना वायरस महामारी (corona virus epidemic) की बड़ी भूमिका बताई जा रही है। कोविड (Covid-19) के दौरान लगे लॉकडाउन और अन्य आर्थिक प्रतिबंधों की वजह से महंगाई बढ़ी है! मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, एक विश्लेषण में उन कारकों की पड़ताल की गई है जोकि महंगाई के सबसे प्रत्यक्ष और प्रमुख कारण बन गए हैं।
विश्वभर में अब जीना क्यों होता जा रहा है और महंगा
जानकारी के अनुसार, विश्व के ज्यादातर देशों में महंगाई का कराण ईंधन की कीमतों में इजाफा होना है। दुनियाभर के विभिन्न देशों में जो महंगाई देखी जा रही है उसके पीछे की वजह पेट्रोल-डीजल का महंगा होना है। दुनियाभर के देशों में कोरोना वायरस महामारी के दौरान शुरुआत में ईंधन की मांग कम हो गई थी। लेकिन अब बाद में अमेरिका, ब्रिटेन, ईयू, एशिया के देशों के अलावा अन्य देशों में इसकी मांग बहुत तेजी से बढ़ी है।
सभी घरेलू सामानों की कीमत इन दिनों आसमान छूने लगी हैं। कोरोना वायरस महामारी को फैलने से रोकने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के दौरान ग्राहक घर में बैठा रहा और मार्केट बंद थे। मांग और स्पलाई बहुत ज्यादा कम हो गईं थी। वहीं रेस्टोरेंट, खाने पीने से संबंधी उद्योग पूरी तरह से बंद हो गए थे। इसके अलावा कारखाने, कच्चे माल की स्पाई पूरी तरह से चौपट हो गई थी। प्लास्टिक, कंक्रीट, स्टील आदि के दामों में खूब बढ़ोतरी देखने को मिली। नतीजा यह हुआ की हर चीज की मंहगी होने लग गई।
बता दें कि ईंधन के दामें के कारण से ही नहीं विश्वभर में शिपिंग कंपनियों को कोरोना वायरस के दौरान एक बड़ी समस्या का सामना करना पड़ा था। लॉकडाउन लगने के कारण माल की ढुलाई पूरी तरह से बंद थी। लेकिन, कोरोना वायरस के केस कम होने के बाद जैसे ही लॉकडाउन खुला तो माल की ढुलाई तंत्र पर अधिक दबाव पड़ा गया। इसका सीधा दबाव रीटेलर पर पड़ा। महामारी की वजह से विश्व की कई अर्थव्यवस्थाएं तक चरमरा गईं। इसका सबसे अच्छा उदारण ब्रिटेन है।
ब्रिटेन में बीते वर्ष के उत्तरार्द्ध में सप्लाई चेन चरमराने से अफरा तफरी की स्थिति बन गई थी। ऐसा केवल शिपिंग कंपनियों के साथ ही नहीं हवाई और सड़क परिवहन में भी हुआ था। कोरोना वायरस महामारी के दौरान लोगों का रोजगार छिन गया। लोगों को नौकरियां चली गईं। अब कंपनियों को कर्मचारी को भर्तियां करने में काफी परेशनियों का सामना करना पड़ रहा है। जिस वजह से अब भत्तों को को बढ़ाने की नौबत आ गई है।
कामकारों की मांग बढ़ने की वजह से कंपनियां नए-नए ऑफर दे रही हैं। आने वालों दिनों में यह सब और बढ़ने वाला है। वहीं कामगारों की कमी फैक्ट्रियों के मालिकों पर भी दबाव बना रही है। इसका नतीजा महंगाई के रूप में ही देखने को मिल रहा है। बता दें कि विश्वभर में असीम मौसम की वजह से भी आर्थिक नुकसान का असर महंगाई पर हो रहा है। यही वजह है कि विश्वभर में जीना महंगा होता चला जा रहा है।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author