May 28, 2022

Knowledge News: फिनलैंड के स्कूलों और उनका माहौल दुनिया में माना जाता है सबसे अच्छा, जानें पीछे की वजह

wp-header-logo-138.png

Knowledge News: दुनिया के देशों में फिनलैंड (Finland) एक ऐसा देश है जहां सबसे बेहतरीन स्कूल और उनका माहौल सबसे अच्छा है। रिपोर्ट के अनुसार, फिनलैंड का एजुकेशन सिस्टम अमेरिका और ब्रिटेन (US & UK) के अलावा अन्य देशों की तुलना में अलग है। इस मामले में फिनलैंड दसों से साल से बहुत आगे है। बताया जाता है कि फिनलैंड के एजुकेशन सिस्टम (Education System) ने छात्रों को एक अलग ही तरह की आजादी दी हुई है।
फिनलैंड में कम्पटीटिव रेस है ही नहीं

आपकी जानकारी के लिए बता दें, फिनलैंड में अन्य देशों की तरह नंबरों की रेस नहीं है। यहां पर अधिक नंबरों के लिए कोई कम्पटीटिव रेस नहीं हैं। इस देश में सात वर्षीय बच्चे की फॉर्मल स्कूलिंग शुरू होती है। सात वर्ष से पहले बच्चे को शुरुआती चाइल्डहुड शिक्षा दी जाती है। इस देश में जब तक बच्चा 16 वर्ष का नहीं हो जाता तब तक वह किसी भी परीक्षा में नहीं बैठता है।
देश में बच्चे की शुरुआती शिक्षा का औपचारिक शिक्षा से किसी भी तरह का कोई लेना देना नहीं होता है। इस दौरान बच्चे की सेहत और उसके एक अच्छा इंसान बनने पर जो दिया जाता है। फिनलैंड के स्कूलों के अध्यापकों को पूरी छूट होती है कि वह बच्चों को किस तरह से पढ़ाएं। अध्यापकों की कोशिश रहती है की उनकी पढ़ाई आसान हो वह पढ़ाई में दिलचस्पी लें और उन्हें एक्सपेरिमेंट का भी ऑप्शन मिली। इसी को ध्यान में रखकर वह बच्चों को पढ़ाते हैं।

बता दें कि फिनलैंड में छात्र 16 साल की उम्र तक परीक्षा में नहीं बैठते हैं। देश की बेसिक शिक्षा पॉलिसी ऐसी है कि अध्यापक उनके भीतर ये क्षमता पैदा करे कि वो अपना मूल्यांकन खुद व खुद कर सकें। इससे स्टूडेंट्स अपनी ग्रोथ और लर्निंग प्रक्रिया को लेकर खुद एक्टिव रहते हैं।

फिनलैंड के स्कूलों की खासियतें

* फिनलैंड के स्कूलों को मुख्य तौर पर स्थानीय म्युनिसपिलिटी नियंत्रित करती है।
* पाठ्यक्रम स्कूलों को अपने हिसाब से तय करने की छूट है।
* अध्यापक छात्रों के अधिक फ्रेंडली होते हैं।
* दुनिया के देशों में फिनलैंड बुद्धिमत्ता और शिक्षा सुधारों के मामले में सबसे आगे माना जाता है।
* यहां पर कंपटीशन को बहुत अच्छी नजरों से नहीं देखा जाता है।
* यहां असली विजेता स्पर्धा नहीं करते। जिस वजह से यहां मैरिट जैसी कोई बात नहीं है। इसके अलावा और ना अच्छे स्कूल और अध्यापकों की कोई रैंकिंग होती है।
* फिनलैंड में स्कूलों का समय सुबह 9 या 9.45 बजे से शुरू होता है। जबकि स्कूल की छुट्टी दोपहर 2 बजे या 2.45 बजे होती है।
* हर साल के साथ अगली क्लास में बच्चों के टीचर नहीं बदलते हैं। कम से कम छह वर्ष तक वही अध्यापक होते हैं। जबकि अन्य देशों में अध्यापक बदलते रहते हैं।
* फिनलैंड में आमतौर पर स्कूल बहुत कम तनाव वाले और बच्चों के प्रति अधिक देखभाल करने वाले होते हैं।
* क्लास के बाद समय-समय पर छात्रों को ब्रेक दिया जाता है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source