May 28, 2022

Bhojpuri Gana : पहली भोजपुरी फिल्म में लता मंगेशकर ने दी थी अपनी आवाज, स्वर कोकिला के ये गाने हैं काफी मजेदार

wp-header-logo-108.png

‘मेरी आवाज ही पहचान है’ और ‘तुम मुझे यूं ना भुला पाओगे’ जैसे गाने से हमारे दिल में ही नहीं रूह में बसी स्वर कोकिला लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) अब हमारे बीच नहीं रही हैं। लता मंगेशकर के निधन के बाद देश शोक में है। कुछ लोग मरके भी अमर हो जाते हैं और इसी लिस्ट में आज जुड़ गया है देश की शान लता मंगेशकर का नाम। अपनी आवाज से दिलों में बस जाने वाली देश की बेटी अब हमेशा याद बनकर रहेंगी। लता मंगेशकर ने अपने करियर में न सिर्फ हिंदी फिल्म इंडस्ट्री को यादगार नगमे दी बल्कि भोजपुरी गानों (Lata Mangeshkar Bhojpuri Gana) में भी अपनी आवाज से जादू बिखेरा है।
इस महान हस्ती के यूं चले जाने से देश स्तब्ध और हताश है। अब उनके प्यार का नगमा संगीत की दुनिया में अमिट छाप छोड़ गया है। भारत रत्न से सम्मानित पार्श्व गायिका ने भोजपुरी इंडस्ट्री को भी अनेक नगमे दिए हैं। तो आइये सुनते हैं भोजपुरी गानों में स्वर कोकिला लता मंगेशकर की प्यारी आवाज । ये गाने भोजपुरी सांग्स लवर के लिए एक खास गिफ्ट से कही ज्यादा है। वहीं गायिका की मौत के बाद ये गाने तेजी से सर्च हो रहे हैं। लता दीदी ने अपने सात दशकों से अधिक के करियर में 25,000 से अधिक गाने गाए हैं। तो आइये हम आपको बताते हैं लता मंगेशकर के कुछ भोजपुरी गाने।
साल 1963 में रिलीज हुई पहली भोजपुरी फिल्म ‘गंगा मैया तोहे पियरी चढ़इबो’ का टाइटल सॉन्ग गाकर लता मंगेशकर ने अपनी आवाज की छाप भोजपुरी इंडस्ट्री पर छोड़ चुकी है । इस गाने में लता मंगेशकर ने अपनी बहन उषा मंगेशकर के साथ अपनी आवाज दी थी। वहीं पार्श्व गायिका के निधन के बाद यह गाना यूट्यूब पर तेजी से सर्च हो रहा है।
लता मंगेशकर का भोजपुरी में डेब्यू उनके फैंस को काफी पसंद आया था। उनका जादू इंडस्ट्री पर चल गया। उनका एक और भोजपुरी गीत लाल ओठवा से बरसे ललइया फिल्म लागी ना छुटे रामा का है। गाने के बोल मजरूह सुल्तानपूरी के हैं और चित्रगुप्त ने संगीत दिया है। इस गाने को न सिर्फ भोजपुरी लिसनर्स बल्कि हिंदी गानों के चाहने वाले भी एन्जॉय करते हैं।
लता मंगेशकर की आवाज में ‘ए चंदा मामा आरे आवा पारे आवा’ एक भोजपुरी गाना है जिसे ‘चित्रगुप्त’ ने संगीतबद्ध किया था। यह गाना ‘भौजी’ फिल्म का है। ब्लैक एंड वाइट फिल्म में फिल्माया गीत आपको जरूर सुनना चाहिए।
‘सपना देख जुड़ा गईल जियरा’ 1966 में फिल्म ‘मितवा’ का यह गाना लता मंगेशकर द्वारा गया गया है। यह गाना कई भोजपुरी फंक्शन में लता मंगेशकर को श्रद्धांजलि के तौर पर बजाया जाता है।
कान्हा तोरी बंसी- यह 1965 में रिलीज़ हुई भोजपुरी फिल्म ‘गंगा’ के लता मंगेशकर के सबसे प्रतिष्ठित गीतों में से एक है। गीत की धुन शैलेंद्र द्वारा लिखी गई थी और चित्रगुप्त ने संगीतबद्ध किया था।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source