November 29, 2022

Remedies for Pollution: हवा में फैले प्रदूषण से करें बचाव! यहां पढ़े सस्ते और असरदार घरेलू उपाय

wp-header-logo-55.png

Home Remedies for Pollution: दिवाली (Diwali 2022) का त्योहार बस अब कुछ ही दिन दूर है, यह रोशनी, मिठाइयों, खुशियों और उमंग का त्योहार होता है। लोगों के घरों में दिवाली से पहले साफ सफाई और सजावट होने लगती है, वहीं बाजारों की चहल-पहल तो देखने लायक होती है। दिवाली के आने से पहले ही बच्चे पटाखे फोड़ना शुरू कर देते हैं। वैसे तो प्रदूषण के मद्देनजर बाजारों में ग्रीन पटाखे आने लगे हैं और सरकार ने आम पटाखों को बेचने पर कई बार बैन भी लगाया है। लेकिन पटाखों पर लगी रोक के बावजूद ये धड़ल्ले से बाजारों में बिकते हैं। दिवाली के पटाखों से होने वाले प्रदूषण (Pollution Latest News) का खामियाजा कई लोगों को भुगतना पड़ता है। इस प्रदूषण (Delhi Pollution) की वजह से कई लोगों को सांस लेने में दिक्कत होती है, और सांस की बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है।
इस खतरनाक प्रदूषण के कारण आंखों में जलन, सांस लेने में तकलीफ, चेहरा लाल होना, खांसी जैसी कई समस्याएं होने लगती हैं। प्रदूषण से बच्चे और बुजुर्ग सबसे ज्यादा प्रभावित होते हैं, ऐसे समय में आप कई घरेलू नुस्खे और आयुर्वेदिक नुस्खों का इस्तेमाल कर सकते हैं जो शरीर को अंदर से मजबूत बनाने और सांस लेने की समस्या को ठीक करने (natural remedies of pollution) में मदद करते हैं:-
नाक पर घी लगाएं (Apply Ghee on Nose)
नाक पर घी या तेल लगाने से कई फायदे होते हैं, यह प्रदूषित हवा के प्रभाव को रोकने में मदद करता है। शुद्ध गाय के घी की एक बूंद नाक में सुबह और शाम डालें। इससे नाक और सांस की नली दोनों साफ हो जाएगी। यह दूषित पदार्थों को आपके फेफड़ों (Lungs) तक पहुंचने से रोकता है।

गुड़ (Jaggery)
शरीर को हेल्थी रखने के लिए गुड़ का सेवन बहुत जरूर होता है, आप चीनी की जगह गुड़ का इस्तेमाल करके अपनी सेहत का बेहतर तरिके से ख्याल रख सकते हैं। गुड़ पाचन में मदद करता है और शरीर को गर्म करता है। यह सांस संबंधी समस्याओं को ठीक करने में भी मदद करता है और फेफड़ों को स्वस्थ रखता है, गुड़ खाने से फेफड़े साफ होते हैं।

त्रिफला (Triphala)
त्रिफला का सेवन बहुत सेहतमंद साबित होता है, यह आपकी इम्युनिटी को मजबूत करता है और पेट की समस्याओं से भी राहत दिलाता है। इसके साथ ही त्रिफला आपको प्रदूषण से भी बचाता है, दिवाली से पहले आपको रोजाना 1 चम्मच त्रिफला का सेवन करना चाहिए। शहद और गर्म पानी मिलाकर रात को सोते समय पीएं।

अदरक (Ginger)
दिवाली पर मौसम भी थोड़ा ठंडा हो जाता है, ठंड की शुरुआत के साथ ही इस मौसम में बीमार होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है। इसलिए बदलते मौसम में अदरक का सेवन जरूर करें। इससे प्रदूषण और खांसी से भी राहत मिलेगी। अदरक के रस में शहद मिलाकर पिएं। आप चाय में भी अदरक डालकर पी सकते हैं।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author