December 5, 2022

Knowledge News : चलती ट्रेन से गिर जाए मोबाइल तो फटाफट करें ये काम, मिल जाएगा वापस

wp-header-logo-58.png

इंडियन रेलवे (Indian Railways) दुनिया का चौथा सबसे बड़ा नेटवर्क है। जब भी किसी इंसान को लंबी दूरी तय करनी होती है तो वो हवाई जहाज या फिर ट्रेन (Train) का सफर तय करना पसंद करते हैं। ट्रेन में सफर तय करते वक्त लोग अक्सर अपना समय बिताने के लिए मोबाइल (Mobile) का इस्तेमाल करते हैं। कई बार ऐसा होता है कि गलती से फोन चलती ट्रेन से नीचे गिर जाता है। हो सकता है आप में से भी किसी के साथ कभी न कभी ऐसा हुआ होगा। ऐसी स्थिति में लोग या तो चुपचाप बैठ जाते हैं और अफसोस करने लगते हैं या फिर ट्रेन की चेन को खींचने लगेंगे। लेकिन हम आपको बता दें कि ये दोनों ही तरीके ठीक नहीं है। आज हम आपको अपनी इस खबर में बताने वाले हैं कि कैसे आप ट्रेन से फोन को गिरने के बाद वापस पा सकते हैं।
इस तरह से मिलेगा मोबाइल वापस
कभी भी ट्रेन में सफर करते समय अगर आपका मोबाइल अचानक ट्रेन से नीचे गिर जाए तो घबराएं नहीं। बल्कि सबसे पहले आपको रेलवे ट्रैक के किनारे लगे हुए पोल यानि खंबे पर लिखा हुआ नंबर या फिर साइड ट्रैक का नंबर लिख लेना चाहिए। इसके बाद तुरंत किसी परिजन या फिर अन्य यात्री के फोन की मदद से RPF और 182 नंबर पर इसकी सूचना देनी चाहिए। आपको उन्हें बताना चाहिए कि आपका फोन किस पोल या ट्रैक नंबर के पास गिरा है। इस जानकारी को देने के बाद रेलवे पुलिस को आपका फोन खोजने में आसानी होगी। यहां तक कि आपका गिरा हुआ फोन मिलने की संभावना कई गुना बढ़ जाएगी। क्योंकि इस नंबर के मिलने के बाद पुलिस तुरंत उसी जगह पर पहुंच जाएगी। बाद में आप रेलवे पुलिस से संपर्क कर अन्य प्रक्रिया को पूरा करने के बाद अपना मोबाइल ले सकते हैं।
चेन खींचने की जरूरत नहीं
कई बार ऐसा देखा जाता है कि लोग चलती ट्रेन में से मोबाइल गिर जाने पर जल्दबाजी में चेन खींच कर देते हैं। लेकिन हम आपको बता दे कि अगर आप ऐसा करते हैं तो वो अपराध की श्रेणी में आता है और इसके लिए आपको सजा भी मिल सकती है। भारतीय रेलवे एक्ट 1989 की धारा 141 के तहत अगर कोई यात्री बिना किसी जरुरी वजह के चेन खींचता है, तो रेलवे एडमिनिस्ट्रेशन यात्रियों और रेलवे स्टाफ के काम में बाधा डालने के चलते उस दोषी को 1 साल की सजा या 1000 रुपये तक का जुर्माना या फिर सजा और जुर्माना दोनों कर सकता है। किसी भी हालत में यह सजा पहली बार पकड़े जाने पर 500 रुपये के जुर्माने से और दूसरी बार या उससे ज्यादा बार पकड़े जाने पर 3 महीने की कैद से कम नहीं हो सकती। यहां तक कि अब कोर्ट 10000 रुपये तक का जुर्माना लगा रही है।
जानिए कब खींच सकते हैं चेन
ट्रेन की चेन को अपनी मर्जी के हिसाब से नहीं खींचा जा सकता। इसे सिर्फ कुछ स्थितियों में ही खींचा जा सकता है।
1. अगर कोई परिजन या फिर बच्चा छूट जाए और ट्रेन चल पड़े।
2. ट्रेन में आग लग जाने पर चेन खींच सकते हैं।
3. बुजुर्ग या फिर दिव्यांग व्यक्ति को ट्रेन में चढ़ने में वक्त लग रहा हो और ट्रेन चल पड़े।
4. अचानक किसी की तबीयत बिगड़ जाए जैसे दौरा पड़े या हार्ट अटैक हो, उस समय चेन खींच सकते हैं।
5. ट्रेन में झपटमारी, चोरी या डकैती की घटना हो जाए तब चेन खींचा जा सकता हैं।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author