December 3, 2022

PAK जेवलिन थ्रोअर का नीरज को लेकर उमड़ा प्यार, कहा- परिवार का…

wp-header-logo-148.png

भारतीय एथलेटिक्स के स्टार नीरज चोपड़ा जब जब (star Neeraj Chopra has hit the track) ट्रैक पर उतरे हैं। उन्होंने निराश नहीं किया है। ज्ञात हो हाल ही में उन्होंने वर्ल्ड एथलेटिक्स चैंपियनशिप (World Athletics Championships) में भाग लिया था और भारत को सिल्वर मेडल दिलाया (represented Pakistan with him) था। उनके साथ अरशद नदीम ने भी पाकिस्तान का प्रतिनिधित्व (secured fifth position) किया था। अरशद ने पांचवां स्थान हासिल किया था। इससे पहले भी दोनों एथलीट कई बड़े मंचों पर एक साथ (participated and there Arshad) प्रतिस्पर्धा कर चुके हैं। बता दें कि साल 2018 एशियन गेम्स में भी इन दोनों ने भाग लिया था और वहां अरशद ने पाकिस्तान (Pakistan the first medal) को जैवलिन थ्रो का पहला मेडल दिलाया (javelin throw) था।
नदीम का कहना है कि…
भले ही दोनों देशों के बीच राजनीतिक माहौल अच्छा ( two countries) नहीं है लेकिन दोनों एथलीट जब भी किसी टूर्नामेंट में भाग लेते हैं, वो एक दूसरे से अपनी तकनीक शेयर करते (athletes participate in any tournament) हैं। पाकिस्तान के जैवलिन थ्रोअर अरशद नदीम का कहना (miss competing against India’s Olympic) है कि उन्हें कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत के ओलंपिक चैम्पियन नीरज चोपड़ा (World Championship last month) के खिलाफ प्रतिस्पर्धा की कमी महसूस होगी क्योंकि वे एक परिवार का हिस्सा हैं। मालूम हो कि नीरज ने पिछले महीने वर्ल्ड चैम्पियनशिप (won the historic silver medal) में 88.13 मीटर के थ्रो से ऐतिहासिक सिल्वर मेडल जीता था। इस दौरान नीरज को ‘ग्रोइन स्ट्रेन’ हुआ था। इस वजह से नीरज ने कॉमनवेल्थ गेम्स में भाग नहीं ले लिया (Neeraj did not participate)। इसी क्रम में अरशद ने कहते है कि, ‘नीरज भाई मेरा भाई है। मुझे यहां उसकी कमी खल रही है। अल्लाह उन्हें स्वस्थ रखे और मुझे जल्द उनके साथ प्रतिस्पर्धा करने का मौका (compete with them soon)’ मिले।’
2016 में शुरू हुई दोनों खिलाड़ियों की दोस्ती
आपको बता दें कि भारत-पाक प्रतिद्वंद्वियों के बीच यह ‘भाईचारा’ 2016 में गुवाहाटी (brotherhood’ between the Indo-Pak rivals) में हुए दक्षिण एशियाई खेलों में हिस्सा लेने के दौरान शुरू हुआ। चार साल पहले जब एशियाई खेलों में नीरज ने स्वर्ण पदक जीता तो अरशद ने कांस्य पदक (Asian Games four years ago) हासिल किया था। अरशद ने कहा, ”वह अच्छे इंसान है। शुरू में आप थोड़ा ‘रिजर्व’ रहते हो। जब आप एक दूसरे (know each other) को जानने लगते हो तो आप खुलने लगते हो। ”उन्होंने कहा, ”हमारे बीच बहुत अच्छी दोस्ती है। मैं उम्मीद करता हूं कि वह भारत के लिए प्रदर्शन करना (hope he continues to perform)जारी रखे और मैं अपने देश के लिए अच्छा करता रहे।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author