August 14, 2022

विराट कोहली कप्तानी विवाद पर BCCI की सफाई, बोले- 'सेलेक्टर्स के फैसलों पर हमारा जोर नहीं…'

wp-header-logo-134.png

पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) के बाद विराट कोहली ने टी20 फॉर्मेट से कप्तानी (Virat Kohli left the captaincy from the T20 format)छोड़ दी थी। इसके बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानि BCCI ने (captaincy of ODI from) उनसे वनडे की कप्तानी भी छीन ली और रोहित शर्मा को दोनों फॉर्मेट की कमान सौंप दी। इस दौरान उनके के लाखों फैंस ने सोशल(BCCI of conspiring against Virat)मीडिया पर BCCI पर विराट के खिलाफ साजिश (strengthened when Kohli) रचने का आरोप लगाया था। इस बात को बल तब मिला, जब इसी साल के शुरुआत में साउथ अफ्रीका दौरे पर टेस्ट सीरीज में (South Africa earlier this year) हार के बाद कोहली ने इस फॉर्मेट की कप्तानी भी छोड़ दी थी। इस बार भी रोहित को ही कमान सौंपी (command) गई।
BCCI कोषाध्यक्ष अरुण ने कहा
इसी कड़ी में अब इस पूरे मामले पर BCCI कोषाध्यक्ष अरुण (BCCI treasurer Arun Dhumal)धूमल ने चुप्पी तोड़ी है। सभी मुद्दों पर भारतीय बोर्ड के कोषाध्यक्ष अरुण धूमल ने सफाई देते हुए कुछ खुलासे किए हैं। धूमल ने कहा कि जो बातें चल रही (some revelations while clarifying) हैं, गलत हैं। कोहली ने कप्तानी छोड़ने का फैसला खुद ही किया था। हमने उनके फैसले का सम्मान (decisions independently) किया। सलेक्शन के भी सभी मामले सलेक्टर्स ही देखते हैं। उन्हें स्वतंत्र रूप से फैसले लेने की छूट है। साथ ही अरुण धूमल ने (Virat Kohli is no ordinary player) कहा, विराट कोहली कोई साधारण खिलाड़ी नहीं हैं। उन्होंने भारतीय क्रिकेट के लिए जो योगदान दिया (Virat to get back into form as soon as)है,वह बेहतरीन है। हम चाहते हैं कि विराट जल्द से जल्द फॉर्म में आएं। जहां तक टीम सलेक्शन का सवाल है, तो हमने यह फैसले सलेक्टर्स पर ही छोड़ दिया है। उनको ही फैसला करना है किसको टीम में रखें और किसे बाहर (who to drop) कर दें।
धूमल ने आगे कहा, ‘जहां तक कप्तानी (as the captaincy) का भी सवाल है कि तो उसमें भी कोहली का भी फैसला रहा था। उन्होंने ही फैसला किया था कि अब मुझे कप्तानी नहीं करनी (leave the captaincy after the World Cup) है। हो सकता है किसी को लगे कि वर्ल्ड कप के बाद कप्तानी छोड़ दें, ये उनका मत है। मगर यहां कोहली कप्तानी छोड़ना चाहते थे। यह पूरी तरह से उनका ही फैसला था। हमने इसका सम्मान किया। उन्होंने क्रिकेट में काफी (Every cricket board respects) योगदान दिया है। हर क्रिकेट बोर्ड उनका सम्मान करता है। हम कोहली को मैदान पर एक्शन में देखना (action on the field) चाहते हैं।’
विराट कोहली के बल्ले से नहीं आ रहे रन
गौरतलब है कि पूर्व भारतीय कप्तान विराट कोहली I(ndian captain Virat Kohli)इन दिनों बेहद खराब फॉर्म से गुजर रहे हैं। तमाम कोशिशों के बावजूद उनका बल्ला खामोश रहा (Despite his best efforts) है। कोहली का आखिरी शतक 22 नवंबर 2019 को बांग्लादेश के खिलाफ आया था। इस बीच विराट कोहली के चाहने वाले और क्रिकेट फैंस चाहेंगे की विराट के बल्ले से रन आए (Virat’s bat)।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author