October 3, 2022

जोधपुर के बाद सुलगा भीलवाड़ा: 2 युवकों पर हमले के बाद तनाव, इंटरनेट सेवायें बंद

wp-header-logo-94.png

जयपुर। ईद के मौके पर जोधपुर में हुए उपद्रव का मामला अभी शांत नहीं हुआ और अब भीलवाड़ा में दो युवकों पर हमले की घटना को लेकर तनाव फैल गया है। यहां सांगानेर में बुधवार रात को यहां दो युवकों के साथ एक दर्जन से ज्यादा नकाबपोशों ने मारपीट करके उनकी बाइक जला दी। इसके बाद लोगों ने हमलावरों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर घायलों को अस्‍पताल ले जाने का विरोध किया। हालांकि, पुलिस-प्रशासन की समझाइश के बाद घायलों को जिला अस्‍पताल में भर्ती करा दिया गया।
इंटरनेट सेवायें बंद
हमलावरों ने युवकों की बाइक भी जला दी। उसके बाद हालात और ज्यादा तनावपूर्ण हो गए। हालात को देखते हुये भीलवाड़ा जिला प्रशासन ने गुरुवार तड़के 4 बजे से आगामी 24 घंटे के लिये संपूर्ण भीलवाड़ा जिले में इंटरनेट सेवायें बंद कर दी है। घायल युवकों को उपचार के लिए भीलवाड़ा के महात्मा गांधी अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस और प्रशासन के आला अधिकारी पूरे मामले में निगरानी रखे हुये हैं।
33 थानों के 150 से ज्यादा जवान तैनात
हालात को देखते हुए सांगानेर इलाके में 33 थानों के 150 से ज्यादा जवानों को तैनात किया गया है। वहीं, गुरुवार सुबह पूरे जिले में इंटरनेट बंद कर दिया गया। इधर, जोधपुर में ईद पर जमकर बवाल हुआ था, जिसके बाद अभी भी शहर में कर्फ्यू लगा हुआ है। साथ ही इंटरनेट भी बंद रखा गया है।
लोगों से शांति रखने की अपील
कलेक्टर आशीष मोदी ने बताया कि दोनों युवकों के साथ मारपीट और बाइक जलाने के मामले में पुलिस टीम हमलावर की तलाश में जुटी है। घटनास्थल के आसपास और शहर से बाहर जाने वाले रास्तों पर CCTV फुटेज खंगाले जा रहे हैं। लोगों से सूचना जुटाकर आरोपियों तक पहुंचने की कोशिश की जा रही है। उन्होंने लोगों से अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है।
सांगानेर अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में शुमार है
आपको बता दें कि भीलवाड़ा का उपनगर सांगानेर राजस्थान के अतिसंवेदनशील क्षेत्रों में शुमार है। हाल ही में राजस्थान में करौली, अलवर और जोधपुर में साम्प्रदायिक सौहार्द्र पर आंच आ चुकी है। लिहाजा अब भीलवाड़ा में कोई गड़बड़ ना हो इसलिये जिला प्रशासन ने ऐहतियात के तौर पर घटना वाले इलाके में भारी पुलिस फोर्स की तैनाती के साथ ही नंटबंदी का कदम भी उठाया है।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author