August 9, 2022

Health Tips: मेनोपॉज के लक्षणों को करना चाहते हैं कम तो एस्ट्रोजन के इन नेचुरल सोर्स का करें सेवन

wp-header-logo-70.png

Health Tips: मेनोपॉज (Menopause) वह समय है जो आपके मासिक धर्म चक्र के अंत का प्रतीक है। इसके पहले और बाद में महिलाओं के शरीर में कई लक्षण दिखाई देते हैं, जो काफी बार बर्दाश्त के बाहर होते हैं। मेनोपॉज के सामान्य लक्षणों (Menopause Common Symptoms) में हॉट फ्लैश और योनि का सूखापन शामिल हैं। इसके कारण आपकी नींद में खलल भी पड़ सकता है। इन लक्षणों का संयोजन चिंता या डिप्रेशन का कारण बन सकता है। प्लान्ट बेस्ड कंपाउंड (Plant Based Compounds) फाइटोएस्ट्रोजेन (Phytoestrogen) से भरपूर आहार लेने से मेनोपॉज से पहले और बाद की महिलाओं में लक्षणों (Pre or Post Menopause Symptoms) के प्रबंधन में फायदेमंद हो सकते हैं। ये प्लान्ट बेस्ड कंपाउंड हमारे शरीर में एस्ट्रोजन (Estrogen) की कॉपी करते हैं।
एस्ट्रोजेन, जिसे सेक्स हार्मोन भी कहा जाता है, एक महिला के प्रजनन और यौन स्वास्थ्य से लेकर हड्डी और संज्ञानात्मक स्वास्थ्य तक शरीर में असंख्य भूमिका निभाता है। एस्ट्रोजन का लो लेवल मेनोपॉज से पहले और बाद के चरण में हो सकता है और सैक्सुअल डिजायर या हॉट फ्लैश को कम कर सकता है। अपने आहार को संशोधित करने से एस्ट्रोजन के स्तर को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। यहां हम आपको कुछ नेचुरल सोर्स (Natural Source) के बारे में बताएंगे जिनका सेवन करने से इन लक्षणों से राहत मिल सकती है। ध्यान रहें कि साइड इफेक्ट से बचने के लिए फाइटोएस्ट्रोजेन का सेवन मध्यम मात्रा में किया जाना चाहिए।
नोट: यहां दी गई जानकारी सामान्य लेखों पर आधारित है, इन्हें विशेषज्ञ की सलाह के तौर पर न लें।

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author