May 28, 2022

जोधपुर में हिंसा और तनाव के बाद दस थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू, इंटरनेट सेवा भी बंद

wp-header-logo-72.png

news website
जोधपुर. राज्य के जोधपुर शहर में दो पक्षों के बीच विवाद के बाद उपद्रव व हिंसा की घटनाएं हुई। इसके चलते शहर में तनाव के हालात को देखते हुए दस थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया। पुलिस के अनुसार इन क्षेत्रों में बुधवार तक कर्फ्यू लगाया गया है। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात किया गया। प्रशासन ने स्थिति नियंत्रण में होने का दावा किया है। शांति बनाए रखने के लिए प्रभावित इलाकों में इंटरनेट सेवा भी बंद की गई है।
पुलिस ने बताया कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए शहर के उदयमंदिर, नागौरी गेट, सदर कोतवाली, सदर बाजार, सूरसागर, सरदारपुरा, खांडाफलसा, प्रतापनगर, देवनगर और प्रतापनगर सदर थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगाया गया है। पुलिस ने घटना के मामले में सात लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं करीब 50 अन्य व्यक्तियों को हिरासत में लिया गया है।
Jodhpur Violence

प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार देर रात जालोरी गेट चौराहे पर झंडा लगाने को लेकर दो पक्षों में विवाद हो गया। वहां पथराव होने से दो पुलिसकर्मियों सहित कुछ लोग घायल हो गए। उस दौरान पुलिस ने उपद्रव कर रहे लोगों को खदेड़ दिया और एक बार मामला शांत हो गया। लेकिन मंगलवार सुबह उपद्रवियों ने एक विधायक के घर के बाहर हंगामा किया और इस दौरान एक मोटरसाइिकल को भी आग लगा दी। इसी तरह शनिचर थान क्षेत्र में भी उपद्रवियों ने कई गाड़ियों के कांच तोड़ दिए और पथराव किया।
मारवाड़ की प्रेम व भाईचारे की परंपरा का करें सम्मान: गहलोत
जोधपुर की घटनाओं को लेकर मुख्यमंत्री ने सभी पक्षों से शांति व भाईचारे की अपील की। उन्होंने कहा, ‘हमारे राजस्थान की, मारवाड़ की परम्परा रही है कि सभी समाज के, सभी धर्मों के लोग हमेशा, हर त्यौहारों पर भी प्रेम भाईचारे से रहते आए हैं, मैं अपील करना चाहूंगा कि तमाम लोग शांति बनाए रखें और तनाव समाप्त करें। जोधपुर, मारवाड़ की प्रेम एवं भाईचारे की परंपरा का सम्मान करें।’
परीक्षा देने जा सकेंगे विद्यार्थी
पुलिस उपायुक्त ने कर्फ्यू को लेकर मंगलवार दोपहर को संशोधित आदेश जारी किया। इसमें कहा गया कि कर्फ्यू में विभिन्न विद्यालय की परीक्षाओं, प्रतियोगी परीक्षाओं में शामिल होने वाले वि़द्यार्थियों, शिक्षकों एवं परीक्षा कार्य में लगे स्टाफ को आने-जाने की छूट होगी। मेडिकल इमरजेंसी, चिकित्सा सेवा से संबंधित कर्मी, बैंककर्मी, न्यायिक सेवाओं से संंबंधित पदाधिकारी, कर्मचारी, पत्रकार व मीडियाकर्मियों द्वारा परिचय पत्र या दस्तावेज दिखाने पर आने-जाने की अनुमति होगी।
Your email address will not be published. Required fields are marked *







This is the News Website by Chambal Sandesh
Rajasthan, Kota
THIS IS CHAMBAL SANDESH YOUR OWN NEWS WEBSITE

  • एजुकेशन
  • कर्नाटक
  • कोटा
  • गुजरात
  • Chambal Sandesh

    source