January 31, 2023

शराब पीने वालों का दिमाग क्यों हो जाता है आउट ऑफ कंट्रोल, जानिये चौंकाने वाली वजह

wp-header-logo-38.png

शराब पीने के फायदे और नुकसान

Negative Effects Of Alcohol: आजकल व्यस्त दिनचर्या, बिगड़ते लाइफस्टाइल (Lifestyle) और बढ़ते स्ट्रेस के कारण लोग शराब (Disadvantages of Drinking Alcohol) का सेवन करने लगे हैं। कुछ लोग शराब इसे जिंदगी के लिए वरदान बताते हैं तो कुछ लोग इसे मौत का रास्ता बताने वाले भी कम नहीं हैं। कुछ लोग ऐसे भी हैं, जो मानते हैं कि सर्दियों में शराब पीने से ठंड का एहसास कम होता है, जिसके चलते शरीर में गर्मी बनी रहती है। हम सभी जानते हैं कि शराब पीने से शरीर को बहुत नुकसान होता है। यह आपके दिमाग पर भी बहुत बुरा असर डालती है, वैसे तो आपके दिमाग को प्रभावित करने वाले कई कारक होते हैं, जैसे कि अनहेल्दी स्लीप पैटर्न, बहुत ज्यादा स्ट्रेस लेना और अस्वस्थ डाइट लेना। शराब का सेवन करना आपके मस्तिष्क को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है। क्या आप जानते हैं कि शराब की लत या शराब का ज्यादा सेवन आपके सोचने की क्षमता को धीरे-धीरे कम करता है। साथ ही आपका दिमाग उम्र से पहले बूढ़ा होने लगता है। इतना ही नहीं, ज्यादा शराब पीने से दिमाग से संबंधित कई गंभीर बीमारियां भी हो सकती हैं।
शराब के कारण आपके दिमाग पर पड़ता है असर
शराब का ज्यादा सेवन करने से आपकी सोचने-समझने की क्षमता कमजोर हो जाती है। साथ ही आपको गुस्सा ज्यादा आने लगता है, जिसके कारण आपकी मेंटल हेल्थ पर गहरा असर पड़ता है।
1. न्यूरॉन होते हैं प्रभावित
विशेषज्ञों के मुताबिक शराब का ज्यादा सेवन हमारे दिमाग को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है। इससे हमारे ब्रेन के फंक्शन को मैनेज करने वाले न्यूरॉन बहुत ज्यादा प्रभावित होते है। साथ ही, ब्रेन में न्यूरॉन की संख्या में भी बहुत ज्यादा कमी आती है।
2. कमजोर करती है याद्दाश्त
शराब के ज्यादा सेवन से हमारे दिमाग पर गहरा असर होता है। इससे हमारी सोचने समझने की क्षमता कम होती है। इस कारण हम किसी भी चीज पर ठीक से ध्यान केंद्रित नहीं कर पाते हैं। लंबे समय तक शराब के सेवन से हमारे मस्तिष्क के संतुलन बिगड़ सकता है। हमारी याद्दाश्त तक जाने लगती है।
3. ब्रेन फंक्शन में आती है रुकावट
विशेषज्ञों के मुताबिक शराब के अत्यधिक सेवन से आपके दिमाग के कॉग्निटिव फंक्शन पर गहरा प्रभाव होता है। दरअसल ब्रेन कॉग्निटिव फंक्शन (cognitive function) मेन्टल रिएक्शन से होती है, जिससे हमारा दिमाग जानकारी लेने, साझा करने, विकसित करने और स्टोर करने जैसे कार्य करता है।
4. दिमाग से कंट्रोल खोना
विशेषज्ञों के मुताबिक लंबे समय तक शराब पीने से आपका मस्तिष्क कंट्रोल में नहीं रहता, जिससे आपको बोलने में परेशानी होने के साथ कई चीजों को प्रोसेस करने में भी परेशानी होती है। इसके अलावा मनोभ्रंश (dementia) की समस्या के कारण आप अपने फैसले बहुत ही मुश्किलों से ले पाते हैं। इस कारण आपको दुर्घटनाएं और चोटें का भी सामना करना पड़ता है।
सीमित मात्रा में शराब का सेवन सेहत के लिए सही?
लोगों का कहना होता है कि सर्दियों के मौसम में सीमित मात्रा में शराब का सेवन करते हैं तो यह आपकी सेहत को नुकसान नहीं पहुंचाता है। अगर बात करें रम की तो इस ड्रिंक का सेवन आपके गले की खराश को शांत करता है।
सर्दियों के मौसम में शराब पीने से आपका शरीर गर्म रहता है। रम शरीर के तापमान को बढ़ा देती है, जिससे आपको अधिक सर्दी नहीं लगती है।

सर्दी-जुकाम जैसी बीमारी में भी रम फायदा करती है। रम की थोड़ी मात्रा आपके गले की खराश कम कर देती है। इससे आप बेहतर महसूस करते हैं। रम सर्दी और जुकाम की समस्या को भी खत्म कर देती है। दरअसल रम में शक्तिशाली जीवाणुरोधी गुण (antibacterial properties) होते हैं, जो सर्दी-जुकाम के वायरस को खत्म कर देती है।

आपकी मसल्स में खिंचाव जैसा महसूस होता है या आपकी मांसपेशियों में रुक-रुक कर अकड़न या दर्द होता है तो इससे छुटकारा दिलाने में रम का सेवन करना भी बेहद फायदेमंद होता है। दरअसल, रम मांसपेशियों को सुन्न कर देती है, जिससे दर्द कम होता है।

नोट: अगर शराब का सेवन एक निश्चित मात्रा में किया जाएं तो यह आपके स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद हो सकती है। यहां बताई बातों को आपको केवल जानकारी के लिए बताया गया है। शराब का सेवन करने से पहले चिकित्सक और विशेषज्ञ की राय जरूर लें।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author