December 5, 2022

Jio 5G के लिए खरीदना होगा नया सिम, जानें क्या 4G SIM में भी चलेगा 5जी नेटवर्क या नहीं?

wp-header-logo-62.png

Jio 5g Service in India: दिवाली से पहले देश के कई शहरों में रिलायंस जियो 5जी की सेवाएं (Reliance Jio 5G services) शुरु कर देगा। 5जी लॉन्च (5G launch) से पहले यूजर्स के मन में सवाल है कि क्या जियो का 5जी नेटवर्क (5G network) 4जी सिम (4G SIM) में भी काम करेगा या फिर उसके लिए नया 5जी सिम खरीदना होगा। आइए इस रिपोर्ट में हम आपको इस सवाल का जवाब आसानी से समझाते हैं।
रिलायंस जियो की 45वीं वार्षिक आम बैठक में स्टैंडअलोन (Standalone) 5G का जिक्र किया गया। कंपनी की ओर से कहा गया कि उनका 5जी नेटवर्क स्टैंडअलोन तकनीक (standalone technology) पर आधारित होगा। 5जी स्टैंडलोन टेक्नोलॉजी पूरी तरह से नई इंफ्रास्ट्रक्चर (infrastructure) पर बनाई गई है। यह 4जी के इंफ्रास्ट्रक्चर पर निर्भर नही करेगी। 5जी स्टैंडलोन टेक्नोलॉजी के जरिए यूजर्स को कई तरह से नया एक्सपीरियंस मिलेगा। इस टेक्नोलॉजी में 4जी के इंफ्रास्ट्रक्चर की जरुर नही पड़ेगी। यह अपने आप में एक नई तरह की एडवांस टेक्नोलॉजी है।
5जी का नेटवर्क स्टैंडअलोन (SA) और नॉन-स्टैंडअलोन (NSA) पर काम कर सकता है। अब यहां पर समझने वाली बात यह है कि नॉन-स्टैंडअलोन (non-standalone) 5जी नेटवर्क 4जी इंफ्रास्ट्रक्चर (4G infrastructure) पर भी शुरु किया जा सकता है।
क्या आपको खरीदना होगा 5जी सिम
यूजर्स को 5जी सेवाओं के लिए 4जी सिम (4G SIM) की अनिवार्य जरुर पड़ेगी, इसको लेकर रिलायंस जियो ने कोई जानकारी साझा नही की है। अगर स्टैंडलोन टेक्नोलॉजी को देखने पर लगता है कि 5जी के लिए 5जी सिम (5G SIM) लेना ही होगा। लेकिन नॉन-स्टैंडअलोन टेक्नोलॉजी पर 4जी के लाइट सिम में 5जी की सेवाएं काम कर सकती है। कई रिपोर्ट्स का कहना है कि 5जी स्टैंडलोन टेक्नोलॉजी भी 4जी सिम में शुरुआती कुछ समय के लिए काम कर सकती है लेकिन बाद में 5जी की सेवाओं के लिए 5जी सिम ही लेना होगा। 5जी नेटवर्क को लेकर सरकार और टेलिकॉम कंपनियों ने पूरी तैयारियां कर ली है लेकिन 5जी सिम को लेकर अभी तक कोई स्पष्ट जानकारी समाने नही आई है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author