August 15, 2022

World Breastfeeding Week 2022 : पहली बार बनी है मां तो ब्रेस्टफीडिंग के समय डाइट का रखें खास ख्याल, इन चीजों से रहे दूर

wp-header-logo-46.png

मां का दूध (Mother’s Milk) एक बच्चे के लिए बेहद जरुरी और फायदेमंद होता है। लेकिन इसके साथ ही ब्रेस्ट फीडिंग (Breastfeeding) कराने वाली महिलाओं को भी अपनी डाइट (Diet) पर खास ध्यान देना चाहिए, क्योंकि ऐसी महिलाओं की डाइट दो लोगों पर निर्भर करती है। अगर डाइट संतुलित नहीं हुई तो मां और बच्चे दोनों के स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ेगा। इसलिए उन्हें किस तरह का खाना-पान करना चाहिए और किस तरह का नहीं इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए। जिससे नवजात बच्चे को दूध की कमी और स्वास्थ्य जैसी कोई समस्या न हो। इसके लिए कैलाश अस्पताल की वरिष्ठ डाइटीशियन रिचा शर्मा का कहना है कि स्तनपान कराते समय आपको खान-पान में बहुत ज्यादा बदलाव करने की जरूरत नहीं होती, कुछ महत्वपूर्ण चीजें हैं जिन्हें आपको ध्यान में रखना चाहिए।
क्या खाएं
स्टार्चयुक्त भोजन, जैसे कि चावल, अनाज से बनी रोटी, आलू, जई (ओट्स), सूजी। इससे आपको अतिरिक्त पोषण और फाइबर मिल सकेगा।
आयरन के लिए दालें, मेवे और हरी पत्तेदार सब्जियां। नॉनवेज के लिए लाल मांस, मछली और मुर्गी (पॉल्ट्री)। अंडे भी आयरन के अच्छे सोर्स हैं।
कैल्शियम के लिए दूध और अन्य डेयरी उत्पाद, बादाम ले सकते है। कैल्शियम फोर्टिफाइड भोजन जैसे कि दाल, सोया और चावल ले सकते है। वहीं पेय पदार्थ में जूस को शामिल कर सकते है। अगर आप नॉनवेज खाते हैं तो आप मछली का सेवन कर सकते हैं।
विटामिन-डी आपकी हड्डियों के विकास और संपूर्ण सेहत के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। धूप विटामिन-डी का अच्छा सोर्स हो सकता है। मगर ज्यादातर महिलाएं सूरज की किरणें नहीं ले पाती जिसकी वजह से उन्हें नेचुरल और पर्याप्त मात्रा में विटामिन-डी नहीं मिल पाता।
विटामिन-सी के लिए खट्टे फल, आंवला, अमरूद और पपीता ले सकते हैं।
विटामिन-ए के लिए गाजर, शकरकंदी, हरी पत्तेदार सब्जियां, कद्दू, लाल शिमला मिर्च, मटर, टमाटर और आम ले सकते हैं। अंडे से भी अच्छी मात्रा में विटामिन ए मिल सकता है।
परहेज करें
जब आप स्तनपान करवा रही हों, कोशिश करें कि कैफीन युक्त पेय बहुत ज्यादा न लें। ऐसा करना मुश्किल हो सकता है, खासकर शुरुआती दिनों में, जब आप लगातार स्तनपान करवाने पर थकान महसूस कर रही हो।
अगर आप सामान्य भोजन खा रही हैं, तो आपको अतिरिक्त घी और मीठा खाने की आवश्यकता नहीं है।
मेवे काफी स्वास्थ्यवर्धक होते हैं। हालांकि, इन्हें घी से चूर या मीठे पकवानों में लेने से बचें। इसकी बजाय मेवों को दलिये या ताजा सलाद में डालकर लिया जा सकता है।
शराब आपके स्तनदूध के जरिए शिशु तक पहुंच सकती है। यदि आप एक सप्ताह में एक या दो बार दो यूनिट से ज्यादा शराब पीते हैं, तो यह आपके शिशु को नुकसान पहुंचा सकती है।
ऐसा हो रात का भोजन
रात के भोजन में आप मिक्स वेजेटिबल ले सकते हैं या फिर कद्दू का सूप, जौं का सूप आदि ले सकते हैं। इन सूप्स के ऊपर आप मेथी दाना भी डाल सकते हैं। आपका डिनर दोपहर के खाने जैसे हो सकता है। आप पनीर की भुजिया रोटी के साथ, लौकी, टिंडा, तोरई, परवल, भिंडी आदि सब्जियां भी रोटी के साथ खा सकती हैं। यह सब्जियां पाचन में सहायक होती हैं। इसके अलावा आप दाल या ग्रेवी की सब्जी को रात में खाने बचें क्योंकि यह हैवी होते हैं।
सोने से पहले
रात को सोने से पहले आप 1 गिलास गुनगुना दूध पिएं, जिसमें 1 से 2 चम्मच सौंठ मिलाकर पी सकते हैं। यह आपको कैल्शियम की पूर्ति करेगा। वहीं, अदरक मांसपेशियों का दर्द दूर करेगी। आप सोते समय खजूर भी दूध में डालकर पी सकते हैं।
प्रस्तुति- अनुष्का पांडे
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author