August 14, 2022

Foods for Healthy Uterus: यूट्रस को हेल्दी रखने के लिए महिलाएं इन चीजों को जरूर खाएं, बीमारियों से भी होगा बचाव

wp-header-logo-16.png

जब यूट्रस (Uterus) हेल्दी होता है, तभी कोई महिला गर्भधारण कर सकती है। हेल्दी यूट्रस के लिए अन्य बातों के अलावा न्यूट्रिशस डाइट भी बहुत जरूरी है। वे कौन से फूड आइटम्स हैं, जो यूट्रस (Uterus) को हेल्दी रखने और कई बीमारियों से बचाने में हेल्पफुल हैं, तो आईए हमारी डाइटीशियन सुगीता मुटरेजा से जानते कि यूट्रस (Uterus) को हेल्दी रखने के लिए डाइट में क्या- क्या करें शामिल:-
गर्भाशय (Uterus) को बच्चेदानी भी कहा जाता है। यह गर्भधारण के लिए जरूरी अंग है। हेल्दी प्रेगनेंसी के लिए गर्भाशय का हेल्दी होना बहुत जरूरी है। जानिए, यूट्रस (Uterus) को हेल्दी बनाने में किस तरह की डाइट का सेवन फायदेमंद है-
फाइबर रिच डाइट- यूट्रस (Uterus) को हेल्दी रखने के लिए फाइबर रिच फूड्स बहुत जरूरी होते हैं। इसके लिए आप अपनी डाइट में ब्रोकली, ओट्स पालक, एवोकाडो, नट्स और फलों को शामिल करें।
खट्टे फल- विटामिन सी से भरपूर खट्टे फल, शरीर की इम्यूनिटी बढ़ाते ही हैं, ये गर्भाशय को भी मजबूत बनाने में मदद करते हैं। अगर आपको गर्भाशय (Uterus) से जुड़ी कोई समस्या है, तो विटामिन सी से भरपूर फलों जैसे, संतरा, आंवला, नीबू का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है।
हरी सब्जियां- हरी सब्जियां सेहत के लिए काफी फायदेमंद होती हैं। नियमित रूप से हरी सब्जी खाने से गर्भाशय (Uterus) भी मजबूत बनता है। हरी सब्जियां यूट्रस की समस्याओं को कम करने में भी मदद करती हैं।
कैस्टर ऑयल- हेल्दी यूट्रस के लिए कैस्टर ऑयल भी हेल्पफुल हो सकता है। इसमें रिकोनोलेयिक एसिड होता है, जो ओवरी में बनने वाले सिस्ट को ठीक करने में मदद करता है। साथ ही कैस्टर ऑयल गर्भाशय (Uterus) के फाइब्रॉएड्स को रोकने में भी लाभकारी है।
डेयरी प्रोडक्ट्स- गर्भाशय (Uterus) को स्वस्थ बनाने के लिए आप अपनी डाइट में डेयरी प्रोडक्ट्स भी शामिल कर सकती हैं। दही, दूध और पनीर गर्भाशय को हेल्दी बनाए रखने में मदद करते हैं। इसमें कैल्शियम होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाता है। दूध में पाया जाने वाला विटामिन डी, गर्भाशय में होने वाले फाइब्रॉएड को दूर करने में मदद करता है। साथ ही विटामिन डी, कैल्शियम को अवशोषित करने के लिए भी जरूरी होता है।
फ्रूट-वेजिटेबल जूस- गर्भाशय (Uterus) को हेल्दी बनाने के लिए डाइट में फ्रूट्स और वेजिटेबल्स जूस भी शामिल करना चाहिए। इसके लिए आप टमाटर-ब्रोकली का जूस, मौसंबी का जूस, पालक का जूस और करौंदे का जूस पी सकती हैं। इससे आपको अच्छी मात्रा में कैल्शियम, विटामिंस और पोटेशियम मिलेगा। ये जूस यूट्रस और ओवरी में फाइब्रॉएड को दूर रखने में भी मदद करते हैं। साथ ही गर्भाशय की लाइनिंग को हेल्दी रखने में सहायक हैं। ये जूस पीने से यूट्रस, डिटॉक्स भी होता है।
ग्रीन टी- ग्रीन टी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो यूट्रस (Uterus) को हेल्दी रखते हैं। साथ ही यूट्रस में होने वाले फाइब्रॉएड्स को रोकने में भी असरदार होता है। इसलिए महिलाओं को अपनी डाइट में ग्रीन टी को जरूर शामिल करना चाहिए।
नट्स-ड्राय फ्रूट्स- बादाम, किशमिश, काजू और अखरोट गर्भाशय को हेल्दी रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा अलसी के बीज भी यूट्रस के लिए फायदेमंद होते हैं। इनके सेवन से गर्भाशय (Uterus) में होने वाले कैंसर से भी बचा जा सकता है।
प्रस्तुति:- ममता

© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author