October 4, 2022

REET: अध्यापक भर्ती परीक्षा से जुड़ी बड़ी खबर, सीधी भर्ती के लिए एग्जाम स्कीम जारी

wp-header-logo-50.png

जयपुर। राजस्थान में टीचर्स के 46 हजार 500 पदों के लिए 23 और 24 जुलाई को रीट परीक्षा कराई जाएगी। इसमें लेवल-1 की 15 हजार, जबकि लेवल-2 के लिए 31 हजार 500 पदों के लिए परीक्षा आयोजित की जाएगी। वहीं, भर्ती परीक्षा से पहले शिक्षा विभाग ने REET परीक्षा का सिलेबस जारी कर दिया है।
ढाई घंटे में 300 सवालों का देना होगा जवाब
राजस्थान में रीट अध्यापक भर्ती से जुड़ी बड़ी खबर सामने आई है। लेवल प्रथम और द्वितीय के पदों पर सीधी भर्ती के लिए प्रतियोगी परीक्षा योजना और पाठ्यक्रम जारी कर दिया गया है। इसके तहत लेवल-1 और लेवल-2 दोनों की परीक्षा 300 नंबर की होगी। इसके लिए उम्मीदवार को दो घंटे 30 मिनट का वक्त दिया जाएगा। इस दौरान हर पेपर में कुल 150 सवाल होंगे। इसमें हर सही सवाल पर उम्मीदवार को दो नंबर मिलेंगे। गलत जवाब देने पर एक तिहाई(0.33) नंबर काटा जाएगा।
ऐसे होगा प्रश्न पत्र
अध्यापक लेवल प्रथम और लेवल द्वितीय के पदों पर सीधी भर्ती के लिए प्रतियोगी परीक्षा और स्कीम और सेलेबस इस प्रकार है।
— परीक्षा 300 अंकों की होगी।
— परीक्षा के लिए एक प्रश्न पत्र होगा।
— प्रश्न-पत्र का समयावधि 2 घंटे 30 मिनट की होगी।
— प्रश्न-पत्र में कुल 150 प्रश्न होंगे और सभी बहुविकल्पीय होंगे।
— उत्तरों के मूल्यांकन में निगेटिव मार्किंग होगी।
— प्रत्येक सही उत्तर पर पूरा अंक मिलेगा और गलत उत्तर पर एक तिहाई अंक कटेगा।

माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ही कराएगा परीक्षा
शिक्षा मंत्री बीडी कल्ला ने बताया कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड द्वारा ही 46 हजार 500 पदों पर रीट का आयोजन किया जाएगा। इसके बाद रीट पास कर चुके अभ्यर्थियों को नियुक्ति के लिए एक और परीक्षा देनी होगी। इसमें मेरिट और एकेडमिक इंडेक्स के आधार पर टॉप करने वाले अभ्यर्थियों को नियुक्ति मिलेगी।

इसी साल जारी होगा रिजल्ट
पिछले साल 26 सितम्बर को आयोजित हुई परीक्षा के लेवल-1 के 15 हजार 500 अभ्यर्थियों को अप्रैल में काउंसिलिंग होते ही नियुक्ति दे दी जाएगी। अप्रैल तक शेष पदों पर भर्ती प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। इसके बाद जुलाई तक एक और परीक्षा का आयोजन कर इसी साल रिजल्ट जारी कर कुल 62 हजार पदों पर अभ्यर्थियों की नियुक्ति भी कर दी जाएगी। जुलाई में आयोजित होने वाली भर्ती परीक्षा के लिए लेवल-2 के पुराने अभ्यर्थियों को आवेदन शुल्क नहीं देना होगा।


राजस्थान में कौनसा मुद्दा गहलोत सरकार की असफलता को प्रमाणित करता है ?

View Results


क्या गुर्जर आरक्षण पर गहलोत सरकार द्वारा पारित विधेयक पुराने आश्वासनों का नया पिटारा है ?

View Results
Enter your email address below to subscribe to our newsletter

source

About Post Author