January 27, 2023

वजाइनल इंफेक्शन और इचिंग से परेशान हैं तो फॉलो करें ये जबरदस्त घरेलू नुस्खे, जल्द मिलेगा आराम

wp-header-logo-4.png

Female Hygiene Tips: आजकल महिलाओं के प्राइवेट पार्ट में इचिंग (Vaginal Itching) या किसी तरह का इंफेक्शन (Vaginal Infection) होना आम सी बात हो गई है। इस समस्या से प्रभावित महिला बहुत ही ज्यादा अनकम्फर्टेबल होने के साथ ही चिड़चिड़ा सा महसूस करती हैं। उनका काम में मन नहीं लगता और मेंटली स्ट्रेस का भी सामना करना पड़ता है। बता दें कि यह समस्या भले ही आम होती जा रही है, लेकिन अगर आपको बार-बार इस परेशानी का समाना करना पड़ रहा है, तो यह किसी गंभीर समस्या का भी लक्षण हो सकते हैं। इसलिए, आपको इचिंग या इंफेक्शन बार-बार होने पर डॉक्टर्स से मिलने की सलाह दी जाती है। अब हम आपको कुछ ऐसे घरेलू नुस्खों के बारे में आपको बताएंगे, जिनका इस्तेमाल करके आप घर बैठकर अपने प्राइवेट पार्ट की इचिंग या इंफेक्शन को दूर कर सकते हैं।
इचिंग या इंफेक्शन क्यों होता है?
सबसे पहले आपको ये पता होना चाहिए कि आखिर किन कारणों से आपको इचिंग या इंफेक्शन की समस्या का सामना करना पड़ता है। ऐसे कई इंफेक्शन हैं, जिनकी वजह से आपको प्राइवेट पार्ट में खुजली और जलन महसूस होती है :-
– वजाइनल यीस्ट इंफेक्शन
– एस्ट्रोजन का कम स्तर या फिर मेनोपॉज की शुरुआत
– टेम्पोन या मेंस्ट्रुअल कप का ठीक तरह से इस्तेमाल न करना
– डेली यूज की चीजों में मौजूद केमिकल्स इंफेक्शन के पीछे का बड़ा कारण
– योनि (vagina), गर्भाशय ग्रीवा (cervix), गर्भाशय(uterus), या फैलोपियन ट्यूब का कैंसर भी इसकी वजह हो सकता है।
प्राइवेट पार्ट की इचिंग इंफेक्शन से बचाव के लिए असरदार घरेलू नुस्खे
अगर आपको प्राइवेट पार्ट में जलन और खुजली महसूस हो रही है, तो आप गुनगुने नारियल के तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं। इस नुस्खे का इस्तेमाल करने के लिए आपको बस इतना करना है कि नारियल तेल को हल्का गर्म करके उसे सीधे ही अपने प्राइवेट पार्ट पर अप्लाई करना है।
बेकिंग सोडा बाथ यीस्ट इंफेक्शन के साथ-साथ खुजली की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बेकिंग सोडा में एंटीफंगल एजेंट्स होते हैं। कई स्टडी में पाया गया है कि बेकिंग सोडा उन सेल्स को खत्म कर देता है, जो यीस्ट इंफेक्शन का कारण बनती हैं। इस नुस्खे का इस्तेमाल करने के लिए आप अपने नहाने के पानी में आधा कप बेकिंग सोडा मिक्स करें और लगभग 10-20 मिनट तक उस पानी से नहाएं। अगर आपके पास बाथ टब की सुविधा है तो आप उसमें बैठ भी सकती हैं।
वजाइनल इचिंग और इंफेक्शन का मुख्य कारण आपके अंडरगारमेंट्स भी होते हैं। इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि हमेशा कॉटन अंडरवियर ही पहनें। ध्यान रहे कि अगर आपको वजाइना से जुड़ी कोई भी परेशानी है, तो कॉटन अंडरवियर ही आपके लिए बेस्ट ऑप्शन साबित होगी। कॉटन के अंडरवियर से हवा आती जाती रहती है, जिससे आपको पसीना कम आएगा। साथ ही, आपको खुजली और इंफेक्शन होने का खतरा भी कम हो जाता है।
वजाइना की इचिंग और इंफेक्शन को दूर करने में सेब का सिरका भी बहुत काम आता है। इससे आपके वजाइना में मौजूद यीस्ट इंफेक्शन को खत्म किया जा सकता है। इस नुस्खे को अपनाने के लिए आपको बस अपने नहाने के पानी में आधा कप एप्पल विनेगर डालना है। इसके बाद आप इससे 10-20 मिनट नहाएं या फिर बाथटब में कुछ देर के लिए बैठें।
अगर यीस्ट इंफेक्शन के कारण आपको इचिंग की समस्या हो रही हैं, तो आपको ओवर-द-काउंटर एंटी-फंगल क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए। ये क्रीम यीस्ट को खत्म करके खुजली को शांत करने में मदद करती है। हालांकि, किसी भी एंटी-फंगल क्रीम का इस्तेमाल सीधे करने से बचें। इसका इस्तेमाल डॉक्टर की सलाह पर ही किया जाए।
हाइजीन का रखें बहुत ज्यादा ख्याल

प्राइवेट पार्ट की इचिंग और इंफेक्शन को दूर करने के लिए बहुत जरूरी है कि आप हाइजीन का खास ख्याल रखें। जब आप हाइजीन का ध्यान रखेंगी, तो आपको खुजली या इन्फेक्शन जैसी किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा। कई बार हम प्राइवेट पार्ट की क्लीनिंग के लिए साबुन, जेल या क्लींजर का इस्तेमाल करते हैं, लेकिन आपको ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए। आपको केवल प्राइवेट पार्ट की क्लीनिंग के लिए सिर्फ पानी का इस्तेमाल करना चाहिए। साबुन या किसी और प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करने से एलर्जिक रिएक्शन और इंफेक्शन हो सकता है।
© Copyrights 2021. All rights reserved.
Powered By Hocalwire

source

About Post Author